Corona_UpdatesJharkhandRanchi

हिंदपीढ़ी में #Corona स्‍क्रीनिंग के लिए गयी मेडिकल टीम का विरोध, बिना जांच के लौटी

Ranchi: हिंदपीढ़ी थाना क्षेत्र में जिस स्थान पर कोरोना वायरस संक्रमित मलेशिया की महिला रह रही थी वहां की स्क्रीनिंग करने गयी मेडिकल टीम को स्थानीय लोगों ने विरोध कर लौटा दिया.

गुरुवार को स्‍क्रीनिंग के लिए गयी मेडिकल टीम से स्‍थानीय लोग भीड़ गये. स्थानीय लोगों ने मेडिकल टीम को इलाके में डोर टू डोर स्‍क्रीनिंग के लिए प्रवेश करने नहीं दिया. पुलिस अधिकारी के द्वारा समझाने के बाद भी लोग मानने को तैयार नहीं हुए. बताया जा रहा है कि डोर टू डोर स्क्रीनिंग करने के लिए पुलिस प्रशासन बैठक कर रही है.

इसे भी पढ़ें- #IslamicCoronaJehad : मरकज के लोगों ने तो गलत किया ही, कोरोना फैलाया, पर अमित शाह की दिल्ली पुलिस है सबसे बड़ी जिम्मेदार

Catalyst IAS
ram janam hospital

तीन किमी तक के इलाके को करना है सेफ

The Royal’s
Sanjeevani

हिंदपीढी इलाके में ही मलेशियन मुस्लिम महिला छिपी हुई थी. उसे इलाज के लिए रिम्‍स में भर्ती कराया गया है. कोरोना पाॅजिटिव मरीज पाये जाने के बाद हिंदपीढी और उससे सटे पूरे 3 किलोमीटर इलाके को सेफ करना है.

इलाके की स्क्रीनिंग और सैनिटाइजिंग होनी है. कोरोना पॉजिटिव केस सामने आने के बाद पूरे हिंदपीढी को सील कर दिया गया है. क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है. इसके बावजूद लोगों ने मेडिकल टीम का विरोध किया.

इसे भी पढ़ें- #Corona_Crisis: पीएम मोदी ने की राज्यों के मुख्यमंत्री से बात, कहा- मिलकर लड़ेंगे

हिंदपीढ़ी से 17 विदेशी मुस्लिम समेत 24 लोग क्वॉरेंटाइन

30 मार्च को रांची के हिंदपीढ़ी स्थित एक मस्जिद से 24 लोगों को निकाला गया था. उनमें से एक मलेशिया की रहने वाली महिला को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है.

सभी जमात पर आये थे और हिंदपीढ़ी की एक मस्जिद में रह रहे थे. सूचना के बाद प्रशासन ने सभी को वहां से निकाला था. सभी को रिम्स ले जाया गया था, जहां पर सभी का कोरोना टेस्ट किया गया. 31 मार्च को रिजल्ट आया जिसमें एक का टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव पाया गया था.

इसे भी पढ़ें- लॉकडाउन में फंसे 6 लाख से अधिक प्रवासी झारखंडी मजदूरों तक हेमंत सरकार ने पहुंचायी मदद

90 लोगों को भेजा गया क्वारेंटाइन सेंटर

रांची में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जांच के बाद 90 लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर भेजा है. सभी को खेलगांव स्थित क्वारेंटाइन सेंटर भेजा गया है. रांची में 31 मार्च को कोरोना का एक पॉजिटिव मामला आने के बाद हिन्दीपीढ़ी एरिया में जांच और एन्क्वायरी टीम तैनात की गयी थी.

टीम को तैनात करने से पहले उपायुक्त राय महिमापत रे ने सभी टीमों को पूरे मामले की ब्रीफिंग की थी. जिसके बाद टीम मौके पर पहुंची. जहां से कुल 5 घरों को खाली कराया गया और वहां रह रहे लोगों को क्वॉरेंटाइन सेंटर भेज दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button