Corona_UpdatesNational

#Corona_Crisis: पीएम मोदी ने की राज्यों के मुख्यमंत्री से बात, कहा- मिलकर लड़ेंगे

 

New Delhi: कोरोना वायरस के संकट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्री से बात की. गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से उन्होंने बातचीत की.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ेंःइधर, शिक्षामंत्री कह रहे निजी स्कूल फीस न लें उधर, स्कूलों ने फीस बढ़ाने के साथ ऑनलाइन जमा करने को भी कहा

इस दौरान पीएम मोदी ने कोरोना को रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों की ओर किए जा रहे उपायों पर भी चर्चा की और कई सुझाव दिए. इसके साथ ही कोरोना को रोकने के लिए  केंद्र सरकार की ओर से किए जा रहे सभी इंतजामों के बारे में बताया गया.

बातचीत के दौरान पीएम ने राज्य सरकारों को आश्वासन दिया कि उनके साथ केंद्र खड़ा है और हर संभव मदद की जाएगी. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी कई सेक्टर के लोगों के साथ इस संकट पर चर्चा कर चुके हैं.

लॉकडाउन का हो सख्ती से पालन- पीएम

मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा के दौरान पीएम मोदी ने लॉकडाउन को लेकर चिंता जताई और उन्होंने हर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कराने की अपील की. साथ ही लोगों को जरूरी सामान भी मुहैया कराये जाने की बात कही.

प्रधानमंत्री ने मजदूरों के पलायन पर अपील की कि हमें हर संभव कर इसे रोकना होगा. इसके लिए हर राज्य अपने ओर से सारे इंतजाम करे. इसके लिए मजूदरों के लिए शेल्टर होम के साथ उनके खाने-पीने की व्यवस्था करने की बात कही. साथ ही मजदूरों से अपील की जाए कि वह सड़कों पर न निकलें.

इसे भी पढ़ेंःMP में #Corona से सातवीं मौत, इंदौर की 65 साल की महिला ने तोड़ा दम

केंद्र और राज्य में समन्वय की जरुरत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस संकट की घड़ी में क्रेंद्र और राज्य सरकारों के बेहतरीन समन्वय की जरूरत है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार हर राज्य के साथ खड़ी है और उन्हें हर जरूरी मदद उपलब्ध करायी जाएगी. बातचीत के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने राज्यों से मेडिकल सुविधाओं के बारे में भी जानकारी ली.

लॉकडाउन के बाद पहली बार प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बातचीत की. इससे पहले 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के 2 दिन पहले 20 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की थी.

इस दौरान उन्होंने कोरोना से दुनिया भर में फैले खतरे के प्रति मुख्यमंत्रियों को आगाह किया था और देश को एकजुट होकर इसका सामना करने की जरूरत बताई थी. जिसके बाद 24 मार्च से देश में लॉकडाउन है, जो 14 अप्रैल तक रहेगा.

प्रधानमंत्री ने पिछले दिनों में कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से हुए इजाफे पर चिंता जाहिर की. उन्होंने कहा कि जिन लोगों में भी इसके लक्षण दिखे उन्हें आइसोलेट किया जाए. साथ ही संपर्क में आए सभी लोगों को क्वारेंटीन किया जाए.

इसे भी पढ़ेंःराज्य में बढ़ा #Corona संक्रमण तो मात्र 350 वेंटिलेटर ही बनेंगे सहारा, सरकार ने और 380 वेंटिलेटर का ही दिया है ऑर्डर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button