BiharCourt NewsJharkhand

बढ़ सकती है लालू यादव की मुश्किलें, चारा घोटाले के सबसे बड़े मामले में CBI की बहस पूरी

Patna: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव अभी कुछ दिन पहले ही जेल से रिहा हुए हैं लेकिन एक बार फिर से लालू प्रसाद यादव पर जेल जाने का खतरा मंडराने लगा है.

चारा घोटाले से जुड़े सबसे बड़े मामले में कोर्ट का फैसला जल्द आने की उम्मीद जताई जा रही है. बता दें कि रांची के सीबीआई की विशेष अदालत में इस मामले में सीबीआई की ओर से शनिवार को बहस पूरी कर ली गई. अब लालू प्रसाद यादव और अन्य अभियुक्तों की ओर से बहस होनी है जिसके बाद कोर्ट का फैसला कभी भी आ सकता है.

इसे भी पढ़ें : बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर आया बड़ा फैसला, अब 2 किलोमीटर के अंदर ही डालने होंगे वोट

Sanjeevani

झारखंड में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव चारा घोटाले से जुड़े पांच मामलों में अभियुक्त हैं. 4 मामलों में कोर्ट का फैसला आ चुका है. लालू यादव को सभी मामलों में सजा सुनाई गई है. चारा घोटाले के पांच मामलों में से आखिरी मामले में रांची की सीबीआई कोर्ट में तेजी से सुनवाई हो रही है. दरअसल कोर्ट ने 6 महीने में मामले का निपटारा करने का आदेश दे रखा है.

आपको बता दें की डोरंडा कोषागार से अवैध तरीके से 139 करोड़ 33 लाख रुपए की निकासी के मामले में सीबीआई ने 11 मार्च 1996 को प्राथमिकी दर्ज की थी. इस मामले में 7 आरोपियों को सरकारी गवाह बनाया गया था. वहीं दो आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया था. इसके बाद सीबीआई ने दो चरणों में 170 अभियुक्तों के खिलाफ चार्जशीट दायर की थी. 2001 में 102 अभियुक्तों के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई थी. कोर्ट में सुनवाई के बाद 2005 में सारे आरोपियों के खिलाफ आरोप गठित किया गया था. इस मामले में पांच आरोपी फरार चल रहे हैं.

इस मामले में सोमवार यानी 9 अगस्त से बचाव पक्ष की ओर से बहस होनी है. कोर्ट ने 9 अगस्त का डेट तय कर दिया है. बचाव पक्ष की ओर से बहस पूरी होने के बाद कोर्ट इस मामले में अपना फैसला सुनाएगी.

इसे भी पढ़ें : PM मोदी का दिल जीतने वाली सलीमा के झारखंड को नसीब नहीं हो रहा खेलो इंडिया सेंटर

Related Articles

Back to top button