न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

कर्नाटक : कांग्रेस नेता व #FormerDeputyCMGParameshwara पर आयकर का शिकंजा, करीबी ने आत्महत्या की

विभाग के अधिकारियों ने दो दिन पहले परमेश्वर के आवास, कार्यालय और सिद्धार्थ ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट्स में छापे मारे थे और रमेश से भी पूछताछ की थी.

62

Bengaluru :  कर्नाटक के पूर्व उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर के विश्वासपात्र  रमेश  ने शनिवार को यहां कथित रूप से आत्महत्या कर ली. पुलिस ने यह जानकारी दी. जान लें कि आयकर विभाग के अधिकारियों ने कुछ दिन पहले पूर्व उपमुख्यमंत्री के आवास, कार्यालय और शिक्षा संस्थानों पर छापे मारे थे.

आयकर विभाग के अनुसार गुरुवार को मारे गये छापों में लगभग साढ़े चार करोड़ से ज्यादा की रकम बरामद की गई है.पुलिस ने बताया कि सुबह भारतीय खेल प्राधिकरण के मैदान के निकट एक पेड़ से रमेश को लटकते हुए पाये गये .

इसे भी पढ़ें : #RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने दी चेतावनी, कहा- गंभीर संकट की तरफ बढ़ रही भारत की अर्थव्यवस्था

आयकर विभाग ने जी परमेश्वर के विश्वासपात्र  से  पूछताछ की थी

पुलिस ने बताया कि रमेश रामनगर में मेल्लईहल्ली के रहने वाले थे.रमेश ने एक टाइपिस्ट के रूप में कांग्रेस के साथ अपना कार्यकाल शुरू किया था और वह परमेश्वर के करीबी बन गये थे. विभाग के अधिकारियों ने दो दिन पहले परमेश्वर के आवास, कार्यालय और सिद्धार्थ ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट्स में छापे मारे थे और रमेश से भी पूछताछ की थी.

इसे भी पढ़ें :  #Modi-XiJinping meeting में आतंकवाद पर हुआ मंथन, पर कश्मीर मुद्दा गायब रहा, चीनी राष्ट्रपति नेपाल रवाना

आईटी अधिकारियों ने परमेश्वर को मंगलवार को बुलाया 

इस संबंध में परमेश्वर ने कहा कि उन्होंने रमेश को साहसी बनने और स्थिति का निडरतापूर्वक सामना करने के लिए कहा था.उन्होंने पत्रकारों से कहा, पता नहीं उसने क्यों आत्महत्या कर ली. आज सुबह भी मैंने उससे बात की और उनसे निडर बने रहने को कहा था.

इस बीच आयकर विभाग के अधिकारियों ने परमेश्वर को मंगलवार को उनके समक्ष पेश होने के लिए कहा है. परमेश्वर ने बताया कि आईटी अधिकारियों ने उन्हें मंगलवार को बुलाया है. उन्होंने यहां कहा,इसलिए मैं मंगलवार को वहां जाऊंगा.

Sport House

कांग्रेस नेता ने कहा कि आयकर विभाग के अधिकारियों ने उनसे कहा है कि कुछ छात्रों की शिकायतों के बाद छापे की कार्रवाई की गयी थी. उन्होंने छापों को कोई राजनीतिक रंग देने से इनकार करते हुए कहा कि वह आयकर अधिकारियों के निष्कर्षों का जवाब तैयार कर रहे है.

आयकर विभाग ने शुक्रवार को एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा था कि उसने कर्नाटक में नौ अक्टूबर को एक प्रमुख व्यवसाय समूह के परिसरों पर छापे मारे थे और यह समूह कई शैक्षणिक संस्थानों का संचालन करता है.

इसे भी पढ़ें :  #Modi-XiJinpingMeeting ‘चेन्नई कनेक्ट’ के साथ शुरू होगा भारत-चीन सहयोग का नया युग

Mayfair 2-1-2020
SP Jamshedpur 24/01/2020-30/01/2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like