न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पत्रकार रवीश कुमार बरसे न्यूज एंकर्स पर,  कहा-टीवी ताकतवर नेता की जूती बन गया है

123

NewDelhi :  द वायर से एक बातचीत में सीनियर पत्रकार रवीश कुमार ने पुलवामा और प्रधानमंत्री पर मीडिया कवरेज को लेकर चैनलों के न्यूज एंकर्स पर निशाना साधा.  उन्होंने कहा कि एंकर्स से खुद तो बोला नहीं जाता और वे सचिन तेंदुलकर और सुनील गावस्कर सरीखे क्रिकेट दिग्गजों से सरकार से सवाल करने को कहते हैं.   रवीश कुमार सरकार से सवाल न करने को लेकर न्यूज एंकर्स पर सवाल उठा रहे थे.  इस क्रम में रवीश कुमार ने टीवी के दर्शकों से कहा कि मैं अपील करता हूं कि आप दो महीने के लिए टीवी देखना छोड़ दीजिए.  उठाकर फेंक दीजिए उसे. न घर में देखें, न मोबाइल पर देखें.  इतना तो कर सकते हैं.  रवीश ने कहा कि इससे आसान, लोकतंत्र के लिए मैं क्या मांग रहा हूं.  भारत के अर्जित लोकतंत्र को जो टीवी बर्बाद करने के लिए दिन-रात जुटा है, क्या उसे आप छोड़ नहीं सकते? रवीश कुमार के अनुसार अब इस टीवी का कुछ भी नहीं हो सकता है. यह देश के सबसे ताकतवर नेता की जूती बनकर रह गया है.  आप इसे क्यों सिर पर उठा रहे हैं.  रवीश कुमार ने कहा कि मैं यह बात किसी अतिरेक में नहीं कह रहा.

इसे भी पढ़ेंः अर्धसैनिक बलों के रिटायर्ड जवानों का प्रदर्शन, कहा-सेना की तरह सुविधा दे मोदी सरकार, चुनाव में सबक सिखायेंगे

चैनलों पर एंकर्स को देखिए कि वे कैसे चिल्लाते हैं

SMILE

आप खुद चैनलों पर एंकर्स को देखिए कि वे कैसे चिल्लाते हैं. कहते हैं- तेंदुलकर बोल क्यों नहीं रहा है? अरे भाई, तुमसे बोला नहीं जाता, सवाल नहीं पूछा जाता और तुम ही तेंदुलकर से सवाल कर रहे हो…तुम ही सरकार से सवाल कर लो न. कहा कि पूछिए न कि पुलवामा पर हमला हुआ, आप (पीएम) अपनी सरकार की योजनाएं गिना रहे थे.  पूछने की उनमें हिम्मत नहीं है.  वह इसी बीच क्या करता है कि लोगों का ध्यान न जाये सरकार से पूछना हमारा काम है.  वे आपके बीच ही कहते हैं कि ये एंटी-नेशनल हैं.  इतने बड़े देश में इन्हें चार लोग मिले; चार एंकर और एक वकील. जब इनसे बोर हो गए, तो तेंदुलकर और गावस्कर को ढूंढ लाये.

इसे भी पढ़ेंः पीएम मोदी और भाजपा वायुसेना की एयर स्ट्राइक का श्रेय ले रहे हैं :  चिदंबरम  

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: