न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

भारत ने पाकिस्तान के साथ एलओसी के जरिए होनेवाले व्यापार पर लगाई रोक

इंटेलिजेंस रिपोर्ट के मुताबिक, सीमा पार व्यापार का मादक पदार्थ, फेक करेंसी के लिए हो रहा इस्तेमाल

695

New Delhi: भारत ने पाकिस्तान के साथ नियंत्रण रेखा (एलओसी) के जरिये व्यापार को स्थगित कर दिया है. और ये रोक 19 अप्रैल यानी आज से लागू हो गया.

गुरुवार को एक सरकारी आदेश में कहा गया है कि जांच एजेंसियों को पता चला था कि पड़ोसी देश के आतंकी तत्वों द्वारा अवैध हथियार, मादक पदार्थों और फेक करेंसी की तस्करी के लिए इस मार्ग का दुरुपयोग किया जा रहा है. इसके बाद यह कदम उठाया गया.

इसे भी पढ़ेंःसाध्वी प्रज्ञा के चुनाव लड़ने पर रोक की मांग, कोर्ट पहुंचे मालेगांव धमाके के पीड़ित के पिता

एलओसी पर व्यापार का गलत इस्तेमाल

बताया जा रहा है कि सीमा पार व्यापार का गलत इस्तेमाल किया जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एनआईए की जांच में पता चला है कि प्रतिबंधित आतंकी संगठन से जुड़े लोगों द्वारा इस एलओसी व्यापार का आतंकवाद और अलगाववाद को बढ़ाने में इस्तेमाल किया जा रहा है.

केंद्रीय गृह मंत्रालय के आदेश में कहा गया है कि भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर के चकन-दा-बाग और सलामाबाद में एलओसी व्यापार को स्थगित करने का निर्णय लिया गया है.

इसमें कहा गया है कि यह कार्रवाई उन रिपोर्टों के आधार पर की गई है कि पाकिस्तान स्थित तत्वों द्वारा अवैध हथियारों, नशीले पदार्थों और नकली नोटों को फैलाने के लिए व्यापार मार्गों का दुरुपयोग किया जा रहा है.

इसे भी पढ़ेंःचतरा की पब्लिक ने भाजपा प्रत्याशी सुनील सिंह को खरी-खोटी तो सुनायी ही, रघुवर सरकार के काम की रिपोर्ट…

ज्ञात हो कि एलओसी व्यापार अभी बारामूला जिले के उरी के सलामाबाद में और पुंछ जिले के चकन-दा-बाग में दो व्यापार केंद्रों से संचालित होता है.

जम्मू कश्मीर और पीओके के बीच यह व्यापार बार्टर सिस्टम और जीरो ड्यूटी के आधार पर होता था और सप्ताह में 4 दिन होता था. और इसमें रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल होनेवाली चीजों का व्यापार किया जाता था.

मजबूत रेगुलेटरी सिस्टम बनाने पर विचार

खबर ये भी है कि सीमा पार व्यापार को लेकर सरकार एक मजबूत रेगुलेटरी सिस्टम बनाने पर विचार कर रही है. जिसके जरिये निगरानी रखी जा सके.

सरकार ने बयान में कहा कि एक सख्त विनियामक और प्रवर्तन तंत्र पर काम किया जा रहा है. और इसे विभिन्न एजेंसियों के परामर्श से लागू किया जाएगा. इसके बाद व्यापार मार्गों को फिर से खोलने के मुद्दे पर विचार किया जाएगा.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड के उन उम्मीदवारों को जानिए जिनकी जीतने की संभावना है कम, लेकिन होंगे गेमचेंजर

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: