National

#GargiCollege: दिल्ली महिला आयोग ने छात्राओं के उत्पीड़न मामले में पुलिस और कॉलेज को जारी किया नोटिस

विज्ञापन

New Delhi: दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने दिल्ली पुलिस और गार्गी कॉलेज को छात्राओं के उत्पीड़न मामले में कथित तौर पर कोई कार्रवाई नहीं करने को लेकर नोटिस भेजा है.

बता दें कि कॉलेज में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में कुछ व्यक्ति घुस गए थे और उन्होंने कथित तौर पर छात्राओं के साथ दुर्व्यवहार किया था.

सोमवार को आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने घटना के संबंध में कॉलेज में अनेक छात्राओं से बातचीत भी की.

इसे भी पढ़ेंः#DelhiElection: वोटों की गिनती शुरू, शुरुआती रुझान में AAP आगे, BJP पिछड़ी

कार्रवाई नहीं होने पर नोटिस जारी

आयोग की अध्यक्ष मालीवाल ने कहा,‘‘हमने दिल्ली पुलिस और गार्गी कॉलेज को कार्रवाई नहीं करने पर नोटिस जारी किया है. हम घटना की खुद जांच करेंगे. हम मामले की विस्तृत जांच और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हैं.’’

उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस और गार्गी कॉलेज ने इस प्रकार की गंभीर घटना पर जिस प्रकार से प्रतिक्रिया दी है, वह गैर जिम्मेदाराना है.

मालीवाल ने बताया कि लड़कियों ने बयान दिए हैं और दुखद अनुभव साझा किए हैं. छात्राओं ने बताया कि कॉलेज प्रशासन ने कार्रवाई करने और शिकायत दर्ज कराने की जगह छात्राओं से कहा कि अगर वे सुरक्षित महससू नहीं करतीं तो उन्हें कॉलेज के कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेना चाहिए.

उन्होंने कहा कि वहां मौजूद पुलिसकर्मियों को शिकायत दर्ज करानी चाहिए थी, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया.

आयोग प्रमुख ने कहा, ‘वे वहां खड़े देखते रहे. चार दिन से पुलिस और कॉलेज इस मामले में चुप्पी साधे हैं. छह फरवरी को परिसर में यौन उत्पीड़न और छेड़छाड़ की घटनाओं की जांच की जिम्मेदारी से वे पल्ला नहीं झाड़ सकते.’

इसे भी पढ़ेंः#JAC: मैट्रिक व इंटर की परीक्षा 11 फरवरी से, 6.21 लाख परीक्षार्थी होंगे शामिल

घटना अभद्र व्यवहार अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटना की निंदा करते हुए सोमवार को कहा कि गार्गी कॉलेज की छात्राओं से अभद्र व्यवहार की घटना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण हैं और दोषियों को कड़ी सजा दी जानी चाहिए.

केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘ गार्गी कॉलेज में हमारी बेटियों के साथ दुर्व्यवहार अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है. इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. दोषियों को कड़ी सजा दी जानी चाहिए. कॉलेजों में पढ़ने वाले हमारे बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए.’

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी घटना की निंदा की.

उन्होंने ट्वीट किया, ‘गार्गी कॉलेज के कार्यक्रम के दौरान जो कुछ हुआ, वह बहुत निंदनीय है. ऐसे उत्सव दिल्ली में सांस्कृतिक विविधता और प्रतिभा का जश्न मनाने के अवसर होते हैं. लेकिन, असामाजिक तत्व छात्राओं का उत्पीड़न करने और उन पर हिंसा करने के एक अन्य मौके के रूप में इस उत्सव को देखते हैं.’

आप नेता और राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि यह बहुत शर्मनाक है कि राष्ट्रीय राजधानी में ऐसी घटनाएं हुई .

गौरतलब है कि छह फरवरी को कॉलेज उत्सव ‘रेवरी’ के दौरान शाम करीब साढ़े छह बजे नशे में धुत पुरुषों के समूह ने कॉलेज के प्रवेश द्वार पर धावा बोल दिया था और अंदर घुसकर उन्होंने छात्राओं के साथ कथित रूप से छेड़छाड़ की थी.

इसे भी पढ़ेंः#JAC: मैट्रिक व इंटर की परीक्षा 11 फरवरी से, 6.21 लाख परीक्षार्थी होंगे शामिल

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close