Crime NewsJharkhandRanchi

डोरंडा रेप व हत्या केस की 7 साल बाद सुलझी गुत्थी, दो आरोपी गिरफ्तार

विज्ञापन

Ranchi: राजधानी डोरंडा थाना क्षेत्र के दर्जी मुहल्ले से 24 अप्रैल, 2013 को गायब हुई बच्ची की रेप के बाद हत्या की गुत्थी को रांची पुलिस ने करीब सात साल के बाद सुलझा लिया है. इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी शहजादी खातून और मो. शाहिद अख्तर को गिरफ्तार किया है.

दोनों को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. दोनों आरोपी डोरंडा के दर्जी मोहल्ला के ही रहने वाले हैं. गौरतलब है कि 25 अप्रैल, 2013 को डोरंडा के निर्माणाधीन अपार्टमेंट से एक छह वर्षीय बच्ची का शव बरामद हुआ था. जिसके बाद से पुलिस इस मामले को सुलझाने में जुटी थी.

इसे भी पढ़ें- #JAC: मैट्रिक व इंटर की परीक्षा 11 फरवरी से, 6.21 लाख परीक्षार्थी होंगे शामिल

क्यों हुई बच्ची की हत्या

जानकारी के अनुसार बच्ची ने दोनों आरोपियों को आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था. जिसके बाद दोनों को डर था की कहीं बच्ची इस बात का खुलासा लोगों के सामने न कर दे.

इसी डर की वजह से शहजादी के कहने पर शाहिद ने बच्ची की हत्या कर दी थी. गौरतलब है कि शहजादी और शाहिद के बीच अवैध संबंध थे. दोनों ही आरोपी रिश्ते में सास और दामाद लगते हैं. वहीं शहजादी बच्ची की रिश्ते में मामी लगती थी.

इसे भी पढ़ें- #Corona virus: जापानी क्रूज शिप से पीएम मोदी को भारतीयों ने भेजा संदेश- हमें बचा लीजिए..

नार्को टेस्ट व मोबाइल लोकेशन से हुआ खुलासा

पुलिस ने दोनों आरोपी के नार्को टेस्ट के लिए एक जनवरी 2019 को अदालत में आवेदन दिया था. एक जून को अदालत से अनुमति के बाद गुजरात में दोनों का ब्रेन इलेक्ट्रिकल ऑस्किलेशन सिग्नेचर टेस्ट हुआ, जो पॉजीटिव निकला. वहां से इंडिकेशन मिलने के बाद दोनों को गिरफ्तार किया गया. वहीं जांच के खुलासे में मोबाइल लोकेशन भी मददगार साबित हुआ.

इसे भी पढ़ें- ओपेन जेल में बंद सरेंडर नक्सलियों के परिजनों ने पुलिस अफसरों से कहा- सरेंडर पॉलिसी से उठ रहा विश्वास

हाइकोर्ट ने दिया था जांच का आदेश

बच्ची के साथ दुष्कर्म और उसकी हत्या के संबंध में साल 2013 में डोरंडा थाना में मामला दर्ज किया गया था. जब कोई रिजल्ट नहीं निकला, तो हाइकोर्ट ने खुद इस मामले में संज्ञान लेते हुए इस केस को फिर से खोलने का आदेश जारी किया और जांच कर रिपोर्ट सौंपने को कहा. जांच की जिम्मेवारी तत्कालीन डीजीपी राजीव कुमार को सौंपी गयी थी.

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close