न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर खूंटी डीएसपी ने उठाये सवाल, फेसबुक पोस्ट के जरिये निकाली भड़ास

‘बचपन से जातीय भेदभाव का शिकार नहीं हुआ था, अब पढ़-लिखकर कुछ बना हूं तो धीरे-धीरे अपनी सदियों से वंचित जाति के होने का एहसास कर रहा हूं’

4,185

Ranchi: झारखंड पुलिस के डीएसपी रैंक के एक अधिकारी ने पुलिस अधिकारियों की ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर गंभीर सवाल उठाये हैं. खूंटी में तैनात डीएसपी किशोर कुमार रजक ने अपने फेसबुक वॉल पर अपनी भड़ास निकाली है. और लिखा है कि झारखंड में जाति विशेष के लोगों की होती है पोस्टिंग, चलता है पैसे का खेल. बता दें कि सोमवार को ही झारखंड सरकार ने 45 डीएसपी रैंक के अधिकारियों का तबादला किया है. इस तबादले को लेकर झारखंड पुलिस में डीएसपी किशोर रजक ने सवाल उठाये हैं.

इसे भी पढ़ेंः झारखंड में शुरू होनेवाली है सोने की पांचवीं खान, सात अन्य खानों पर चल रहा जांच का काम

क्या लिखा है अपने फेसबुक वॉल पर

डीएसपी किशोर रजक का फेसबुक पोस्ट

सिस्टम के खिलाफ अपनी भड़ास निकालते हुए उन्होंने लिखा कि, “ बचपन से जातीय भेदभाव का शिकार नहीं हुआ था. अब पढ़-लिखकर कुछ बना हूं तो धीरे-धीरे अपनी सदियों से बंचित जाति के होने का एहसास कर रहा हूं. जोश,ऊर्जा,ईमानदारी, मेहनत,मेरिट ये सब बकवास लगने लगा है. यदि पैसा,पैरवी और किसी खास जाति का होना ही मेरिट है तो इसे कहां से लाऊं. एसआईआरबी-02 खूंटी में दो डीएसपी का एक महीने पहले ही पोस्टिंग हुई थी. उनलोगों का कल ट्रांसफर हो गया. SIRB में अभी मैं ही हूं. सिर्फ असम,छत्तीसगढ़,मध्यप्रदेश,राजस्थान ड्यूटी के लिए भेजा जा चुका हूं. झारखंड के भी कई जिलों में ड्यूटी कर चुका हूं. अब कब कहां ड्यूटी के लिए भेजा जाएगा पता नहीं. बाकी मित्र की तरह स्थायी रूप से काम नहीं कर पा रहा हूं. मानसिक रूप से परेशान हूं.
जय हिंद ! जय भारत !”

इसे भी पढ़ेंः गर्भनिरोधक गोलियां लेने वाली महिलाओं के भावनाशून्य होने का खतरा : अध्ययन

एसआईआरबी-2 खूंटी में तैनात हैं किशोर कुमार रजक

पांचवी जेपीएससी की परीक्षा में पास होकर डीएसपी बने किशोर कुमार रजक मूल रूप से झारखंड के बोकारो के रहने वाले हैं. फिलहाल वे एसआईआरबी -2 खूंटी में तैनात हैं. किशोर कुमार रजक ने अपने फेसबुक वॉल पर लिखा है कि दो महीने पहले उनके साथ दो डीएसपी ने ज्वाइन किया था. उन लोगों का तुरंत ट्रांसफर हो गया, अब एसआईआरबी में सिर्फ वही बचे हैं.

पत्नी से विवाद को लेकर पहले भी चर्चा में आए थे डीएसपी

बता दें कि डीएसपी किशोर रजक इससे पहले भी चर्चा में रहे हैं. डीएसपी किशोर कुमार रजक अपनी पत्नी के साथ मारपीट को लेकर चर्चा में आए थे. उनकी पत्नी ने रामगढ़ महिला थाना पहुंचकर अपने पति किशोर कुमार रजक पर प्रताड़ित करने, मारपीट करने सहित कई गंभीर आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया था. महीनों से चल रहे पति-पत्नी के बीच की अनबन महिला आयोग की काउंसलिंग के बाद समाप्त हुई थी. वर्तमान में दोनों साथ रह रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः पटना हाईकोर्ट का फैसलाः पूर्व मुख्यमंत्रियों को नहीं मिलेगी आजीवन सरकारी आवास की सुविधा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: