Khas-KhabarNational

दिल्ली दंगाः पुलिस ने चार्जशीट में कहा- साजिश को अंजाम देने के लिए 5 लोगों को मिले थे 1.61 करोड़

विज्ञापन

NewDelhi: फरवरी में उत्तर-पूर्व दिल्ली में हुए दंगों के सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने अदालत में चार्जशीट दाखिल की है. अपने आरोपपत्र में दिल्ली पुलिस ने कहा है कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन स्थलों का प्रबंधन करने और साम्प्रदायिक हिंसा की साजिश को अंजाम देने के लिये पांच लोगों को कथित तौर पर 1.61 करोड़ रुपये मिले थे.

इसे भी पढ़ेंः राज्यसभाः कल से धरने पर बैठे निलंबित 8 सांसदों के लिए चाय लेकर पहुंचे उपसभापति, खुद उपवास पर हरिवंश

दंगे के लिए 5 लोगों को मिले थे 1.61 करोड़ रुपये

पुलिस ने चार्जशीट में कहा है कि कांग्रेस की पूर्व पार्षद इशरत जहां, कार्यकर्ता खालिद सैफी, आम आदमी पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन, जामिया मिल्लिया इस्लामिया एलुमनाई एसोसिएशन अध्यक्ष शिफा उर रहमान और जामिया के छात्र मीरन हैदर को सीएए के खिलाफ प्रदर्शन स्थलों के प्रबंधन और फरवरी में हुए दिल्ली दंगों की साजिश को अंजाम देने के लिए कथित तौर पर 1.61 करोड़ रुपये मिले थे.

advt

15 आरोपियों के खिलाफ आरोपपत्र

पुलिस ने फरवरी में उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई सांप्रदायिक हिंसा के मामले में 15 आरोपियों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया है. आरोपपत्र के मुताबिक,“जांच के दौरान यह पता चला है कि एक दिसंबर 2019 से 26 फरवरी, 2020 के दौरान आरोपी इशरत जहां, खालिद सैफी, ताहिर हुसैन, शिफा-उर रहमान और मीरन हैदर को बैंक खाते और नकदी के माध्यम से कुल 1,61,33,703 रुपये मिले थे.”

आरोप पत्र में कहा गया है कि कुल 1.61 करोड़ रुपये में से 1,48,01186 रुपये नकद निकाले गए और प्रदर्शन स्थलों के प्रबंधन के लिए खर्च किए गए.

इसे भी पढ़ेंः  सुशील श्रीवास्तव हत्याकांड के दोषियों की सजा आज होगी तय, विकास तिवारी समेत पांच पाये गये हैं दोषी

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button