RanchiTOP SLIDER

बेरमो और दुमका विधानसभा सीट के लिए उपचुनावी दंगल आज से शुरू, मधुपुर पर अभी इंतजार

  • दोनों ही सीटों पर उपचुनाव के लिए आज से 17 अक्टूबर तक होना है नॉमिनेशन
  • तीन नवंबर को दोनों सीटों पर होगा उपचुनाव
  • दुमका में दो लाख 47 हजार और बेरमो में तीन लाख 11 हजार हैं वोटर्स

Ranchi : दुमका और बेरमो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए तैयारियां कर ली गयी हैं. शुक्रवार से इन सीटों पर नॉमिनेशन हो रहा है. नॉमिनेशन की आखिरी तारीख 16 अक्टूबर है. स्क्रूटिनी 17 अक्टूबर को होगी. नाम वापस लेने की आखिरी तारीख 19 अक्टूबर तय की गयी है.

राज्य निर्वाचन आयोग के संयुक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी हीरा लाल मंडल ने बताया कि इन सीटों पर तैयारी कर ली गयी है. उपचुनाव होने के कारण जिला स्तर पर तैयारी हो रही है. वहीं, इन सीटों पर बूथों की तैयारी भी कर ली गयी है.

इसे भी पढ़ें- गिरिडीह भाजपा में सुलग रही अंदरूनी नाराजगी, जिलाध्यक्ष से लेकर प्रदेश अध्यक्ष तक पहुंच रही आंच

Sanjeevani

बेरमो में 468 और दुमका में 368 बूथ बने हैं

इन दोनों सीटों पर तीन नवंबर को चुनाव होने हैं. वहीं, 10 नवंबर को रिजल्ट जारी किया जायेगा. बेरमो में कुल 468 बूथ बनाये गये हैं. यहां कुल वोटर्स तीन लाख 11 हजार 168 हैं. जबकि, दुमका में 368 बूथ बनाये गये हैं. यहां दो लाख 47 हजार 719 वोटर्स हैं.

कोविड-19 महामारी के मद्देनजर विशेष दिशा-निर्देश

हीरा लाल मंडल ने बताया कि भारतीय निर्वाचन आयोग से कोविड-19 महामारी को ध्यान में रखते हुए विशेष दिशा-निर्देश दिये गये हैं, जिनका नॉमिनेशन से लेकर चुनाव के रिजल्ट की घोषणा तक पालन करना है. इसमें मुख्य रूप से मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंसिंग, दस्ताने पहनने आदि का निर्देश दिया गया है. हीरा लाल मंडल ने बताया कि जिन जिलों में चुनाव होने हैं, वहां के निर्वाची पदाधिकारियों को ये निर्देश उपलब्ध करा दिये गये हैं.

इसे भी पढ़ें-बिहार विधानसभा चुनाव: 5 सीटों के लिये झामुमो ने जारी की पहली सूची

दुमका से हेमंत सोरेन ने छोड़ी सीट

पिछले साल हुए झारखंड विधानसभा चुनाव में बरहेट और दुमका विधानसभा सीट से हेमंत सोरेन ने जीत हासिल की थी. लेकिन, बाद में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दुमका से विधायिकी छोड़ दी और बरहेट सीट पर विधायक रहते हुए मुख्यमंत्री बने.

कांग्रेस के राजेंद्र सिंह के निधन से खाली हुई थी बेरमो सीट

बेरमो सीट से कांग्रेस के विधायक रहे राजेंद्र सिंह का 25 मई को निधन हो गया था, जिसके बाद यह सीट खाली रह गयी. बता दें कि वर्तमान में हाजी हुसैन अंसारी का निधन हो गया है, जो मधुपुर सीट से विधायक थे. उनके निधन के बाद यह सीट खाली है. हालांकि, चुनाव आयोग की ओर से इस सीट पर उपचुनाव की अभी कोई घोषणा नहीं की गयी है.

इसे भी पढ़ें-पूर्व सांसद कृष्णा मार्डी का एनडीए को समर्थन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button