Corona_UpdatesMain SliderNational

देश में बढ़ रहा कोरोना का खतरा, 24 घंटे में 55 हजार से ज्यादा नये केस, 16 लाख के पार आंकड़ा

विज्ञापन

New Delhi: देश में कोरोना वायरस का खतरा लगातार बढ़ रहा है. हजारों लोग इस भयंकर बीमारी का शिकार हो रहे हैं. देश में अब तक लाखों लोगों को इस महामारी ने अपनी चपेट में ले लिया है. वहीं हजारों लोगों की मौत भी इस वायरस की वजह से हो चुकी है.

पिछले 24 घंटे में देश में अब तक के सबसे अधिक कोरोना केस सामने आये हैं. भारत में कोरोना के 55 हजार से ज्यादा नये केस मिले हैं. जिसके बाद कुल संक्रमितों का आंकड़ा 16 लाख के पार पहुंच चुका है. जबकि 779 लोगों की इस वायरस की वजह से जान गयी है. इन मौतों के बाद देश में इस बीमारी से मरने वालों की कुल संख्या 35 हजार के पार पहुंच चुकी है.

advt

adv

इसे भी पढ़ें- मेनहर्ट घोटाला-14 : तकनीकी समितियों ने माना- टेंडर गलत हुआ है, सुझाव दिया- इसे रद्द करें, पर रघुवर दास ने शर्तों को ही बदल दिया

10,57,806 मरीज हुए ठीक

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में एक दिन में 55,079 पॉजिटिव केस आये हैं. इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 16,38,871 हो गयी है. वहीं 779 मरीजों की जान जाने के साथ ही कुल मृतकों का आंकड़ा 35,747 पहुंच गया है.

देश में फिलहाल इस वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 5,45,318 है. अच्छी बात यह यह कि एक्टिव केस से अधिक ठीक होने वालों की संख्या है. भारत में कुल 10,57,806 मरीज कोरोना वायरस को मात देकर ठीक हो चुके हैं.

इसे भी पढ़ें- बिहार: एक दिन में Corona के 2 हजार से अधिक नये केस, संक्रमण के मामले बढ़कर 48 हजार के पार

दिल्ली में अब तक 10 लाख से अधिक नमूनो की जांच हुई

दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के लिए अब तक 10 लाख से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है. आंकड़ों के अनुसार इनमें से लगभग आधे नमूनों की जांच पिछले 30 दिनों में की गयी. स्वास्थ्य विभाग द्वारा बृहस्पतिवार को जारी बुलेटिन के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में अब तक 10,13,694 परीक्षण किये गये हैं यानी औसतन प्रति 10 लाख आबादी पर 53,352 नमूनों की जांच की गयी है.

पिछले महीने हर रोज कोरोना वायरस के 2,000-3000 नये मामले सामने आ रहे थे. जिसे देखते हुए दिल्ली में जांच क्षमता बढ़ा दी गयी. आंकड़ों के मुताबिक, जुलाई में 3.82 लाख रैपिड एंटीजन टेस्ट हुए. रोजाना किए जाने वाले रैपिड एंटीजन जांचों की संख्या आरटी-पीसीआर जांचों के दोगुने से अधिक हैं.

इसे भी पढ़ें- कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी गंगाराम अस्पताल में भर्ती

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close