National

CBDT चेयरमैन पर आरोप- पद सुनिश्चित करने के लिए विपक्षी नेता पर की कार्रवाई

New Delhi: केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड की महिला अधिकारी ने चेयरमैन पर गंभीर आरोप लगाये हैं.

अधिकारी ने कहा है कि विपक्षी नेता पर कार्रवाई कर चेयरमैन प्रमोद चंद्र मोदी ने पद सुनिश्चित किया है. जिस महिला अधिकारी ने आरोप लगाये हैं उनका नाम अल्का त्यागी है.

इसे भी पढ़ें- अनुच्छेद 370 हटने के 60 दिनों बाद #Anantnag में DC ऑफिस के बाहर आतंकियों ने फेंका ग्रेनेड, 10 लोग जख्मी

संवेदनशील मामले को बंद करने का निर्देश देने का आरोप

इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक इसे लेकर महिला अधिकारी ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के सत्ता में आने के एक महीने के बाद ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखा. पत्र में उन्होंने चेयरमैन के खिलाफ चौंकाने वाले निर्देश देने का आरोप लगाया है.

महिला अधिकारी ने यह पत्र 21 जून को लिखा था. उन्होंने बताया कि सीबीडीटी चेयरमैन प्रमोद चंद्र मोदी ने एक संवेदनशील मामले को बंद करने का निर्देश दिया था.

अल्का त्यागी ने बताया कि चेयरमैन ने एक विपक्षी नेता के खिलाफ कार्रवाई करने में सफलता हासिल की इसलिए केंद्रीय कर बोर्ड के अध्यक्ष के रूप में उन्होंने अपना पद सुरक्षित कर लिया.

इसे भी पढ़ें- पदों के रिक्ति की जानकारी #JPSC को नहीं देती राज्य की यूनिवर्सिटी, खुद ही एक्सटेंशन पर चलाती है काम

महिला अधिकारी पर बनाया गया था दबाव

त्यागी ने बताया कि मोदी ने उनके सामने यह बात कबूल किया है कि विपक्षी पार्टी के एक नेता के खिलाफ उनकी अगुवाई में चलाये गये एक कामयाब छापे की वजह से उनकी सीबीडीटी चेयरमैन का उनका पद सुनिश्चित हुआ.

महिला अधिकारी का शिकायत पत्र नौ पन्नों का है. और उससे यह पता चलता है कि मोदी ने उनपर जबरदस्त दबाव बनाया था.

1984 बैच की आईआरएस अधिकारी त्यागी ने अपनी शिकायत में कई तरह की अनियमितताओं का जिक्र किया है. उन्होंने उसमें बताया है कि कैसे चेयरमैन ने उन्हें लगातार गंभीर आरोपों से जुड़े एक संवेदनशील मामले में जारी प्रक्रियाओं को रोकने के लिए कहा.

Related Articles

Back to top button