JharkhandRanchi

विधानसभा चुनाव में बीजेपी की हार: कहीं 11 सासंदों की साख पर संकट न खड़ा कर दे

Pravin Kumar

Ranchi :  आठ माह पहले झारखंड में मोदी लहर में भाजपा के 11 सांसद चुनाव जीतकर संसद पहुंचे थे.  लेकिन आठ माह बाद ही भाजपा अपने पुराने प्रदर्शन को दोहरा नहीं पायी. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से लेकर सीएम रघुवर दास तक हार गये. लोकसभा चुनाव में भाजपा को काफी बढ़त मिली थी, केंद्रीय मुद्दों पर चुनाव लड़ने वाली भाजपा को विधानसभा चुनाव में सत्ता गंवानी पड़ी.

लोकसभा चुनाव में पार्टी विधायकों को अपने विधानसभा सीट पर बढ़त दिलाने के लिए काम करने को कहा गया था. वहीं जहां बढ़त नहीं मिली, वैसे कुछ विधायकों का टिकट भी काटा गया था. लेकिन विधानसभा चुनाव में भाजपा की हार के बाद भाजपा सांसदों के समक्ष साख का संकट भी ला खड़ा कर दिया है.

इसे भी पढ़ेंः #Palamu: बरकाकाना-वाराणसी पैसेंजर अब मेमू ट्रेन के रूप में चलेगी, कम समय में गंतव्य तक पहुंच सकेंगे यात्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह एवं अन्य केंद्रीय नेताओं और मंत्रियों की ताबड़तोड़ सभाओं के बाद भी पार्टी को हार का सामना करना पड़ा. भाजपा की हार से सिर्फ सत्ता ही हाथ से नहीं निकली बल्कि पार्टी के 11 सांसदों को भी झटका दे दिया है.

भाजपा के सांसद भी अपने इलाके में भगवा किला ध्वस्त होने से रोक नहीं सके. लोकसभा चुनाव जीतकर जाने वाले 11 सांसदों की भूमिका भी चुनाव में हार की वजह माना जा रहा है. राजनीतिक गलियारे में इसे लेकर चर्चा जोरों पर है.

दुमका संसदीय क्षेत्र

दुमका लोकसभा क्षेत्र में 6 विधानसभा आते हैं. दुमका संसदीय क्षेत्र में भाजपा ने लोकसभा चुनाव में बेहतर प्रर्दशन किया था. दुमका सीट से सांसद सुनील सोरेन चुने गये थे. विधानसभा चुनाव में पार्टी को मात्र एक सीट पर सफलता मिली, लेकिन उसमें भी लोकसभा चुनाव से कम ही वोट मिला.

adv

भाजपा को दुमका को मिली हार से सांसद सुनील सोरने की साख का भी संकट खड़ा हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी दुमका संसदीय क्षेत्र में दो सभायें की थी. लेकिन दुमका में भाजपा पूरी तरह धरसायी हो गई.

सीट लोकसभा वोट विधानसभा वोट परिणाम
शिकारीपाड़ा 61774 49847 हार
नाला 91121 57836 हार
जामताड़ा 82530 74088 हार
दुमका 78623 67819 हार
जामा 68527 58431 हार
सारठ 101178 90895 जीत

 

गोड्डा संसदीय क्षेत्र        

गोडडा संसदीय सीट पर आठ माह पहले हुए चुनाव में भाजपा ने सभी 6 विधानसभा सीटों पर बढ़त बनायी थी. लेकिन विधानसभा चुनाव में सांसद निशिकांत दुबे की साख का संकट खड़ा हो गया है. मात्र एक सीट पर भाजपा को जीत मिली.

 

सीट             लेस वोट      विस वोट  परिणाम

जरमुंडी 95686 49408 हार
मधुपुर 108663 64883 हार
देवघर 150786 95491 जीत
पोड़ैयाहाट 90841 63761 हार
गोड्डा 98285 87578 जीत
महगामा 91125 76725 हार

 

चतरा संसदीय क्षेत्र

चतरा से भाजपा सांसद सुनील सिंह ने लोकसभा चुनाव में पांचों विधानसभा सीटों पर बढ़त बनायी थी. लेकिन सांसद के रूप में अपने संसदीय क्षेत्र में पार्टी को सफलता नहीं दिला सके. सिमरिया और पांकी विधानसभा छोड़ अन्य तीन पर पार्टी उम्मीदवारों की हार हुई. इस हार ने सांसद सुनील सिंह की भी साख पर बट्टा लगा दिया है.

इसे भी पढ़ेंः #TelecomIndustry पर संकट का साया, 1.47 लाख करोड़ बकाया, वोडाफोन-आइडिया की सरकार से मदद की गुहार

सीट      लोस वोट          विस वोट      परिणाम

सिमरिया 131092 61438 जीत
चतरा 123172 77655 हार
मनिका 63935 57760 हार
लातेहार 94995 60179 हार
पांकी 1100111 93184 जीत

 

कोडरमा संसदीय क्षेत्र

कोडरमा से अन्नपूर्ण देवी संसद है लोकसभा चुनाव के कोडरमा संसदीय क्षेत्र के सभी विधानसभा सीटो पर बढ़त मिली थी लेकिन विधानसभा चुनाव में मात्र दो सीटो पर भाजपा को मिली सफलता इनके लिए साख का सकट खड़ा कर दिया है .

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
कोडरमा 158413 63675 जीता
बरकट्ठा 156068 47760 हार
धनवार 95279 34802 हार
बगोदर 134900 83656 हार
जमुआ 115909 58468 जीत
गांडेय 91594 56168 हार

धनबाद संसदीय क्षेत्र

धनबाद से भाजपा सासंद पी एन सिंह अपनी साख बचाने में सफल हो गये हैं. निरसा विधानसभा सीट में अब तक कभी भगवा अपना पताका नहीं फहरा  सका था. लेकिन विधानसभा चुनाव में निरसा के साथ-साथ पांच विधानसभा सीटों पर मिली जीत ने सांसद पीएन सिंह का कद पार्टी में बड़ा किया है.

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
बोकारो 187699 112333 जीत
चंदनक्यारी 124601 67739 जीत
सिंदरी 137740 80967 जीता
निरसा 141013 89082 जीता
धनबाद 148300 120773 जीता
झरिया 91351 67732 हार

 

रांची संसदीय क्षेत्र    

रांची लोकसभा सीट से सांसद संजय सेठ अपनी साख बचाने में कुछ हद तक सफल रहे. पार्टी को खिजरी,ईचागढ़ सीट से हाथ धोना पड़ा, लेकिन तीन सीट जीत सके.

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
ईचागढ़ 118211 38485 हार
सिल्ली 86765 उम्मीदवार नहीं दिया
खिजरी 104871 78360 हार
रांची 102217 79646 जीत
हटिया 144729 115431 जीत
कांके 147509 111975 जीत

 

जमशेदपुर संसदीय क्षेत्र

जमशेदपुर से भाजपा के सांसद विद्युत बरन महतो की साख का भी संकट खड़ा हो गया है. भाजपा ने लोकसभा चुनाव में संसदीय क्षेत्र के सभी विधानसभा सीटों पर बढ़त बनायी थी. लेकिन लोकसभा चुनाव में पार्टी की सभी 6 विधानसभा सीटों पर जमशेदपुर सांसद के सामने साख का संकट खड़ा कर दिया है. इनके संसदीय क्षेत्र से सीएम रहे रघुवर दास को भी हार का सामना करना पड़ा.

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
बहरागोड़ा 93275 45452 हार
घाटशिला 87087 56807 हार
पोटका 107090 67643 हार
जुगसलाई 135421 66647 हार
जमशेदपूर पूर्व 134317 58112 हार
जमशेदपूर पश्चिम 131794 74195 हार

 

खूंटी संसदीय क्षेत्र

खूंटी सांसद और केन्द्र में मंत्री अर्जुन मुंडा अपनी साख कुछ हद तक बचाने में सफल रहे. वहीं खरासांवा विधानसभा में मिली लोकसभा चुनाव के दौरान बढ़त बनाये रखने में सफल नहीं हो सके. जबकि खूंटी और तोरपा विधानसभा में मिली पार्टी की जीत कुछ हद तक इनकी साख बचाने का काम किया. लेकिन पार्टी को संकट से उबरने में पूर्व सीएम अर्जुन मुंडा भी सफल नहीं हो सके.

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
खरासांवा 88852 50546 हार
तमाड़ 86352 18082 हार
तोरपा 43964 43482 जीत
खूंटी 51410 59198 जीत
सिमडेगा 66122 60366 हार
कोलेबिरा 44866 36236 हार

 

                लोहरदगा संसदीय क्षेत्र

सुर्दशन भगत लोहरदगा से सांसद आठ माह पहले चुने गये. लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा को सिसई विधानसभा सीट पर भारी बढ़त मिली थी. लेकिन विधानसभा चुनाव में लोकसभा सांसद सुर्दशन भगत के साथ-साथ राज्यसभा सांसद समीर उरांव की भी साख का संकट खड़ा हो गया है. भाजपा को सभी 5 विधानसभा सीटों पर मुंह की खानी पड़ी.

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
मांडर 91442 69364 हार
सिसई 61504 55302 हार
गुमला 62504 59749 हार
विशुनपुर 73255 63482 हार
लोहरदगा 80898 44230 हार

 

पलामू संसदीय क्षेत्र

पलामू सांसद बीडी राम अपनी साख कुछ हद तक बचाने में सफल हुए. लोकसभा चुनाव में पाटी को पलामू संसदीय क्षेत्र में पड़ने वाली सभी विधानसभा क्षत्रों में बढ़त मिली थी. लेकिन गढ़वा विधानसभा सीट से पार्टी उम्मीदवार की हार इनके लिए आने वाले समय में साख का संकट खड़ा कर सकता है.

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
डालटनगंज 145935 103698 जीत
विश्रामपुर 118583 40635 जीत
छत्तरपुर 100126 64127 जीता
हुसैनाबाद 94858 उम्मीदवार नहीं दिया
गढ़वा 60694 83159 हार
भवनाथपुर 155791 96818 जीत

 

हजारीबाग संसदीय क्षेत्र

कभी भाजपा का गढ़ रहा हजारीबाग संसदीय क्षेत्र का नजारा विधानसभा चुनाव के परिणाम के बाद बदल गया. सांसद व पूर्व केद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा के लिए संकट खड़ा कर रहा है. क्योंकि सभी 5 विधानसभा सीटों पर बढ़त को सांसद जयंत सिन्हा कायम रखने में सफल नहीं हो सके.

सीट लोस वोट विस वोट परिणाम
बरही 124120 72987 हार
बड़कागांव 143197 31761 हार
रामगढ़ 149018 31874 हार
मांडू 158989 49855 जीत
हजारीबाग 152035 106208 जीत

 

इसे भी पढ़ेंः #Cricket :  आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड 32 साल बाद ‘बाक्सिंग डे’ पर होंगे आमने-सामने

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: