न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

स्टेन स्वामी, गौतम नवलखा, आनंद तेलतुम्बडे की गिरफ्तारी पर 21 नवंबर तक रोक

नवलखा अपने घर में नजरबंद हैं,  जबकि तेलतुम्बडे और स्वामी को गिरफ्तार नहीं किया गया है.

38

 Mumbai :  बंबई हाईकोर्ट ने गुरुवार को सामाजिक कार्यकर्त्ता गौतम नवलखा, प्रोफेसर आनंद तेलतुम्बडे और स्टेन स्वामी को कोरेगांव भीमा हिंसा तथा माओवादियों के साथ कथित संपर्क के संबंध में उनके खिलाफ दर्ज मामले में गिरफ्तारी से 21 नवंबर तक राहत दी है.  बता दें कि जस्टिस रंजीत मोरे और भारती डांगरे की खंडपीठ ने उनकी याचिका पर सुनवाई करते हुए तीनों कार्यकर्त्ताओं को राहत प्रदान की.  जानकारी के अनुसार इन तीनों ने बंबई हाईकोर्ट में याचिका दायर कर उनके खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने की मांग की थी. खंडपीठ ने मामले की सुनवाई के लिए 21 नवंबर की तारीख मुकर्रर की है. इस संबंध में एक मामला  SC में लंबित है.  पीठ ने साफ किया कि  इंतजार किया जायेगा और देखा जायेगा कि उन मामलों में SC  क्या फैसला करता है.  बताया गया कि मामले की अगली सुनवाई तक अंतरिम राहत जारी रहेगी.

इसे भी पढ़ें : दोषी करार नेताओं पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की याचिका पर सुनवाई को तैयार SC

नवलखा अपने घर में नजरबंद हैं

जान लें कि कोर्ट ने पिछले माह पुलिस को आदेश दिया था कि वह याचिकाकर्त्ताओं के खिलाफ न तो किसी प्रकार की दंडात्मक कार्रवाई करे और न ही उन्हें गिरफ्तार करे. बता दें कि इस मामले में नवलखा अपने घर में नजरबंद हैं,  जबकि तेलतुम्बडे और स्वामी को गिरफ्तार नहीं किया गया है.  पूर्व में पुलिस ने 28 अगस्त को कार्यकर्त्ता वरवरा राव, अरुण फेरारिया, वेरोन गोंसाल्विस और सुधा भारद्वाज को माओवादियों से संपर्क और कोरेगांव भीमा में एक जनवरी को हुई हिंसा के मामले में गिरफ्तार किया था

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: