Crime NewsJharkhandRanchi

मां-बेटी की हत्या कर शव को सोक-पिट में डालने वाला आरोपी अब भी पुलिस की गिरफ्त से दूर

Ranchi : अरगोड़ा थाना क्षेत्र के पीपर टोली में भैरो तिग्गा के यहां किराये पर रहने वाली रेखा तिग्गा और उसकी 5 वर्षीया पुत्री प्रियांशी को मारकर दफनाने वाला आरोपी मो.शमीम पुलिस की गिरफ्त से अब भी दूर है.

उसकी गिरफ्तारी के लिए रातू के हुरहुरी स्थित उसके घर में छापेमारी की गयी, लेकिन वह फरार मिला. पुलिस ने उसके एक रिश्तेदार को भी हिरासत में लिया था और उससे पूछताछ की थी. लेकिन उससे भी कुछ खास सूचना नहीं मिल सकी. जिसके बाद उसे छोड़ दिया गया.

पुलिस आरोपी मो. शमीम की गिरफ्तारी के प्रयास में लगातार जुटी हुई है. लेकिन अब तक पुलिस को सफलता हाथ नहीं लगी है. गौरतलब है कि सोमवार को भैरो तिग्गा के मकान में बनी सेप्टिक टैंक से रेखा तिग्गा (27) व उसकी बेटी प्रियांशी तिग्गा (5) का शव बरामद किया गया था.

इसे भी पढ़ें- पुलिस की बर्बरता: पहले महिला के उतारे कपड़े, फिर प्राइवेट पार्ट पर बेल्ट से किया वार

घटना के बाद से फरार है आरोपी

रेखा तिग्गा और उसकी बेटी प्रियांशी की हत्या के बाद आरोपी मो शमीम फरार है. रेखा तिग्गा अपने पति की मौत के बाद से शमीम के साथ छह सालों से लिव इन में रह रही थी. रेखा रेजा का काम करती थी. इसी दौरान शमीम से उसका संपर्क हुआ था.

जिस घर में रेखा रह रही थी उसके मकान मालिक का कहना है कि उसने पिछले 21 अगस्त से रेखा को नहीं देखा था. जिसके बाद 22 अगस्त को शमीम आया और उसने कहा कि उसे घर में नहीं रहना है. वह घर खाली करेगा. लेकिन इसके बाद वह नहीं आया.

मकान मालिक के अनुसार कुछ दिनों से उनके घर के पीछे जहां टंकी है, वहां से दुर्गंध आ रही थी. जब इसकी जांच की गयी तो पता चला कि उसमें शव पड़े हुए हैं.

इसे भी पढ़ें- देश की #GDP पर क्रिसिल की रिपोर्ट चिंताजनक, 2019-20 के लिए ग्रोथ रेट घटाकर किया 6.3 %

सोक-पिट में सड़ी-गली अवस्था में मिला था शव

दो सितंबर की सुबह भैरो तिग्गा ने घर के पीछे बने सेप्टिक टैंक के सोख्ता में देखा कि वहां मक्खियां भिनभिना रही थीं. उन्होंने इसकी सूचना रेखा की भतीजी को दी. रेखा की भतीजी व दामाद पहुंचे.

परिवार के अन्य सदस्य को बुलाने के लिए कहा और पुलिस को भी इसकी सूचना दी. मौके पर परिवार के लोग भी पहुंचे. स्लैब उठाया गया, तो वहां मां-बेटी का कंकाल पड़ा था. कपड़े व चप्पल देखकर परिजनों ने मां-बेटी की पहचान की थी.

इसे भी पढ़ें- चिदंबरम को SC से बड़ा झटका, जमानत याचिका खारिज, ED कर सकती है गिरफ्तार

बार-बार लोकेशन बदल रहा है आरोपी 

इस मामले में हटिया डीएसपी का कहना है कि आरोपी का लोकेशन बार-बार बदल रहा है. पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी में जुटी हुई है जल्दी उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Advt

Related Articles

Back to top button