न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

100 नंबर जल्द होगा बंद, अब डायल 112 से लेना होगा अग्निशमन, पुलिस और स्वास्थ्य सुविधा का सहयोग

830
  • केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने नये नंबर में किया तीनों सुविधाओं को मर्ज
  • जिला नियंत्रण कक्ष में गिरिडीह व कोडरमा के पुलिस पदाधिकारियों को दिया गया प्रशिक्षण

Giridih: केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने अग्निशमन, पुलिस और स्वास्थ्य सुविधा के सार्वजनिक फोन नंबर को मर्ज करते हुए डायल 100 का स्वरूप बदल कर अब डायल 112 कर दिया गया है.

डायल 112 में ही हर आम व खास को आकस्मिक घटना में स्वास्थ्य के साथ अग्निशमन और पुलिस की सेवा उपलब्ध होगी.

फिलहाल गृह मंत्रालय के इस योजना की लांचिग तो नहीं हुई है लेकिन गुरुवार को जिला नियंत्रण कक्ष में एक दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया जिसमें गिरिडीह से 40 तो कोडरमा से 30 पुलिस पदाधिकारी के साथ दोनों जिलों के सीसीटीएनएस ऑपरेटर वाहिद परवेज व कर्मवीर साहा शामिल हुए.

पदाधिकारियों को प्रशिक्षण देने के लिए इलेक्ट्रॉनिक और कम्युनिकेशन मंत्रालय की सॉफ्टवेयर एजेंसी सेन्ट्रल फॉर डेवलमेंट एडवांस कोलकाता और रांची से संजीव कुमार और अमरजीत कुमार पहुंचे थे.

hotlips top

एक दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान पुलिस और सीसीटीएनएस पदाधिकारियों को दोनों प्रशिक्षकों ने प्रैक्टिकल हेडसोन का प्रशिक्षण दिया जिसमें दोनों प्रशिक्षकों ने बताया कि इमरजेंसी रिस्पांड सपोर्ट सिस्टम का संचालन सुविधापूर्वक करना है.

इसे भी पढ़ें : खेल विभाग का खेल स्टेडियम अपनों के लिए है उपहार, महंगी सेवाओं से खिलाड़ी हो रहे बेजार

पहले की ही तरह रहेगा सारा सिस्टम

दोनों प्रशिक्षकों ने जानकारी दी कि सारा सिस्टम पहले की तरह ही है. सिर्फ नंबर बदले गये हैं जिसमें आकस्मिक घटना होने पर डायल 112 में कॉल करने पर संबधित थाना क्षेत्र के साथ नेशनल हाइवे पेट्रोलिंग पुलिस को पहुंचना है.

इसके लिए डायल 112 का कॉल रिसीव करने वाले पहले फोन करने वाले से उनकी पूरी डिटेल जानकारी लेगे जिसमें सहयोग लेने वाले को किसकी जरुरत है यह भी जानकारी लेगें.

उसके आधार पर फोन करने वाले स्वास्थ्य, अग्निशमन और पुलिस का सहयोग तत्काल उपलब्ध कराया जायेगा. लेकिन कॉल करने वाले का कॉल नियंत्रण कक्ष से रिसीव किये जाने के बाद तुंरत उस कॉल को रांची ट्रांसफर किया जायेगा. इसके बाद सहयोग किया जायेगा.

इधर प्रशिक्षण में दोनों जिलों के पुलिस पदाधिकारियों को डायल 112 की कई और जानकारियां दी गयीं. साथ ही बताया गया कि जल्द ही इसकी लॉन्चिग की जायेगी.

इसे भी पढ़ें : आरक्षण की वजह से 6ठी जेपीएससी में हुआ विवाद, उसी पेंच में फंसी 7वीं, 8वीं और 9वीं जेपीएससी परीक्षा

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like