न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

देखें वीडियो – कैसे महिला पुलिस ने वकील को जड़ा थप्पड़, वकील भी भिड़े

चुटिया थाना के पास कार लगाने को लेकर हुआ विवाद

1,085

Ranchi : चुटिया थाना के पास कार लगाने को लेकर हाइकोर्ट के वकील दिलीप कुमार सिंह और चुटिया थाना प्रभारी मंजू कुजूर के बीच मारपीट हुई. दोनों एक दूसरे के ऊपर पहले हाथ छोड़ने का आरोप लगा रहे हैं. ट्रैफिक एसपी और ट्रैफिक डीएसपी मौके पर पहुंचकर मामले की जांच कर रहे हैं. जांच के बाद ही पूरा मामला सामने आ पाएगा कि, किसकी गलती है.

 क्या है मामला

जानकारी के अनुसार स्टेट बार कौंसिल और हाइकोर्ट के वकील दिलीप कुमार सिंह चुटिया थाना के पास अपनी कार लगाकर सब्जी खरीद रहे थे. इसी दौरान एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने उन्हें कार हटाने को कहा. जिसके बाद दोनों की ओर से विवाद बढ़ गया. जिसके बाद ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने महिला थाना प्रभारी मंजू कुजूर को बुलाकर लाया. इसके बाद वकील और थाना प्रभारी के बीच मारपीट होने लगी.

पार्किंग के लिए 500 मांग रहे थे

वकील दिलीप कुमार सिंह ने ट्रैफिक पुलिसकर्मी पर आरोप लगाया कि चुटिया थाना के पास वह कार लगाकर सब्जी ले रहे थे, इसी दौरान एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी आया और कार पार्किंग के लिए 500 रुपया मांग रहा था. मेरे द्वारा 500 रुपया नहीं देने पर ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने ट्रैफिक थाना प्रभारी मंजू कुजूर को बुलाकर लाया. जिसके बाद उन्होंने मेरे साथ बदसलूकी की और मेरे ऊपर हाथ चला दिया.

 वकील ने किया मारपीट : ट्रैफिक थाना प्रभारी चुटिया

चुटिया यातायात थाना प्रभारी मंजू कुजूर  ने कहा कि वकील दिलीप अपने आप को हाइकोर्ट का वकील बता रहा था. कहा कि कोई मेरा कुछ नहीं उखाड़ पाएगा. मैं जहां चाहूं, वहां अपनी कार लगाऊंगा. जहां तक 500 रुपया मांगने की बात है, कोई पागल नहीं है, जो भी सड़क पर लोगों से 500 रुपया की मांग करेगा. वकील झूठा आरोप लगाकर ट्रैफिक पुलिसकर्मी साथ उलझ गया. इसके बाद दोनों के बीच विवाद बढ़ गया. इसी बीच ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने मुझे बुलाकर लाया और जिसके बाद यह हमसे भी बहस करने लगे. बहस करते करते अचानक उन्होंने मेरे ऊपर हाथ छोड़ दिया.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

%d bloggers like this: