Crime NewsHazaribaghJharkhand

डेढ़ माह पहले दफनाये गये नाबालिग लड़की के शव को कब्र से निकाला गया, जानिए क्यों

कटकमसांडी पुलिस ले गयी शव, परिजनों ने लड़की की खाला और एक पुलिससकर्मी पर लगाया हत्या का आरोप

Chauparan: हजारीबाग जिले के चौपारण थानांतर्गत केवल गांव की कब्रगाह में डेढ़ माह पूर्व दफनायी गयी 15 वर्षीया लड़की की लाश को पुलिस ने शनिवार को निकाला. कटकमसांडी की पुलिस ने चौपारण पुलिस की मदद से शव को कब्र से निकाला और अपने साथ ले गयी.

दोनों थानों की पुलिस जब शव निकालने पहुंची तो कब्रगाह के पास ग्रामीणों की भीड़ लग गयी. मुर्दा कल्याण समिति के खालिद खलील की टीम के नेतृत्व में शव को दो घंटों के बड़ी मशक्कत के बाद निकाला गया.

मौके पर मौजूद दण्डाधिकारी सह चौपारण बीडीओ प्रेमचंद सिन्हा ने बताया कि कटकमसांडी में दर्ज मामले व जिले के वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर बनी टीम के संयुक्त अभियान में यह कार्रवाई की गयी है.

उन्होंने कहा, “मेरी उपस्थिति व वीडियो रिकॉर्डिंग में बच्ची के शव को कब्र से निकालकर अंत्यपरीक्षण के लिए कटकमसांडी पुलिस अपने साथ ले जा रही है.”

इसे भी पढ़ें- गिरिडीह : शराबी बेटे ने मांगी प्रॉपर्टी, पिता ने बाद में बात करने को कहा, तो कर दी हत्या

पिता बोले, बेटी की खाला और पुलिसकर्मी ने की हत्या

मृतका के पिता क्याम खान केवला के ही रहने वाले हैं. उन्होंने बताया कि उनकी पुत्री रौशनी खातून कटकमसांडी के खुटरा गांव स्थित अपनी नानी के घर रहकर पढ़ाई कर रही थी. लेकिन डेढ़ माह पूर्व उसकी कुएं में गिरकर मौत की खबर मिली.शव को बिना पोस्टमॉर्टम किये ही केवला की कब्रगाह में दफना दिया गया.

क्याम खान ने बताया कि उन्हें कुछ दिन बाद पता चला कि रोशनी की खाला का अवैध संबंध कटकमसांडी थाने के एक कर्मी गौरीशंकर मण्डल के साथ था. इस बात की जानकारी रोशनी को हो गयी थी. इस सच को छुपाने के लिए दोनों ने मिलकर रोशनी की हत्या कर दी और इसे दुर्घटना का रंग देने के लिए शव को कुएं में डाल दिया.

इसे भी पढ़ें- अतिक्रमण रोकने के लिए 24 घंटे अभियान के साथ RMC करेगा 36 नये इंफोर्समेंट अफसरों की बहाली

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: