Fashion/Film/T.VRanchi

आइआइएम रांची के छात्र करेंगे सरकारी स्कूलों का मूल्यांकन

Ranchi: भारतीय प्रबंधन संस्थान, रांची (आइआइएम) के छात्र अब झारखंड के सरकारी स्कूलों में चल रहे कार्यक्रमों को मूल्यांकन करेंगे. इसके लिए स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग, झारखंड सरकार ने आइआइएम रांची को प्रस्ताव दे दिया है. आइआइएम रांची को विभाग से मिले प्रस्ताव की स्वीकृति मिल गयी है. जल्द ही इस दिशा में आइआइएम रांची के छात्र शोध कार्य आरंभ कर देंगे, ताकि विभाग द्वारा चलाये जा रहे कार्यक्रमों का सही रूप से मूल्यांकन किया जा सके. विभाग थर्ड पार्टी के रूप में स्कूलों में चल रहे कार्यक्रमों का मूल्यांकन के लिए आइआइएम रांची की मदद ले रहे हैं. इससे पूर्व विभाग स्कूलों में चल रहे शिक्षा की गुणवत्ता एवं कार्यक्रमों के संचलान के लिए बीआरसी एवं सीआरपी कर्मचारियों के माध्यम से कार्य कर रही थी.

शिक्षा परियोजना के तहत कार्य करेगा आइआइएम रांची

झारखंड शिक्षा परियोजना के तहत चल रहे कार्यक्रम ई-विद्यावाहनी, ज्ञानसेतू, स्कूल मर्ज जैसे कार्यक्रमों को राज्य के सरकारी स्कूलों में क्या स्थिति है और किस दिशा में ये कार्यक्रम स्कूलों बच्चों के बीच पहुंचे? उसकी जमीनी हकीकत के आकलन लिए संस्थान के छात्र डेटाबेस के आधार जमीनी हकीकत आकलन करेंगे. संस्थान के आकलन के बाद विभाग इन कार्यक्रमों का अनुसरण एवं मूल्यांकन कर सकेगा.

आइआइएम रांची को दिया गया है मूल्यांकन का कार्य-सचिव

स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के प्रधान सचिव एपी सिंह ने कहा कि विद्यावाहनी, ज्ञानसेतु और स्कूल मर्ज कार्यक्रमों का सही आकलन के लिए आइआइएम रांची को प्रस्ताव दिया गया है. जल्द ही विभाग के प्रस्ताव पर आइआइएम रांची के छात्र शोध आरंभ कर देंगे. इससे पूर्व आइआइएम बैंगलुरु के छात्रों ने दिशा में पहल करते हुये विभागों को इन कार्यक्रमों की डेटा उपलब्ध कराया है. आइआइएम रांची थर्ड पार्टी के रूप में शिक्षा परियोजना के साथ मिलकर कार्य करेगा.

इसे भी पढ़ें – नयी बिजली दर में फंस सकता है पेंच, ग्रामीण और शहरी दर एक समान करने पर आपत्ति

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: