lok sabha election 2019National

आयोग के विशेष पर्यवेक्षक पश्चिम बंगाल के लोगों से अभद्र व्यवहार कर रहे हैं : ममता

Ranaghat: तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने रविवार को दावा किया कि चुनाव आयोग द्वारा भेजे गये अधिकारी पश्चिम बंगाल के लोगों से अभद्र व्यवहार कर रहे हैं और भाजपा राज्य में समानांतर सरकार चलाने का प्रयास कर रही है.

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाए कि बंगाल में सरकार चलाने के लिए चुनाव आयोग ने दो सेवानिवृत्त अधिकारियों को तैनात किया है.

उन्होंने कहा, ‘‘अधिकारी राज्य के लोगों से अभद्र व्यवहार कर रहे हैं.’’ वह विशेष पर्यवेक्षक अजय वी. नायक के बयान पर प्रतिक्रिया दे रही थीं जिसमें नायक ने कहा कि बंगाल की आज की स्थिति वैसी ही है जैसे 10 – 15 वर्ष पहले बिहार की थी.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ेंः नामकुम की स्वर्णरेखा नदी में डूबने से दो बालकों की मौत

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

बिहार के पूर्व मुख्य निर्वाचन अधिकारी नायक ने कहा कि लोगों का राज्य पुलिस पर विश्वास नहीं है और इसलिए सभी मतदान केंद्रों पर केंद्रीय बलों की तैनाती की उनकी मांग बढ़ती जा रही है.

ममता ने कहा, ‘‘भाजपा राज्य में समानांतर सरकार चलाने का प्रयास कर रही है. दो सेवानिवृत्त अधिकारियों को सरकार चलाने के लिए भेजा गया है, यह असंवैधानिक है.’’

बनर्जी ने कहा कि 2016 में विधानसभा चुनाव में सभी मतदान केंद्रों पर केंद्रीय बलों की तैनाती कराकर की गई थी लेकिन पार्टी ने शानदार जीत हासिल की थी.

उन्होंने आरोप लगाए कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘मन की बात’ संबोधन पूरी तरह फर्जीवाड़ा है. मुख्यमंत्री ने आरोप लगाए कि प्रधानमंत्री पिछले पांच वर्षों से रेडियो पर आरएसएस की भाषा बोल रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः भारत को अगले पांच वर्ष में अपनी सुधार प्रक्रिया पूरी कर लेनी चाहिएः अरविंद पनगढ़िया

Related Articles

Back to top button