Crime NewsJharkhandRanchi

ड्रग्स की चपेट में रांची के युवा, गांजा भरी चिलम से लगा रहे कश

RANCHI: शहर में खुलेआम प्रतिबंधित नशीले पदार्थ का कारोबार धड़ल्ले से हो रहा है. सरकार द्वारा गांजा, चरस, अफीम और हेरोइन जैसे नशीले पदार्थों पर प्रतिबंध लगाने के तमाम दावे खोखले साबित हो रहे हैं.

शहर के रांची रेलवे स्टेशन के समीप, लोअर चुटिया, तिरिल तालाब, मधुकम, हटिया, डोरंडा, किशोरगंज के समीप बड़ा तालाब, पुरुलिया रोड, कर्बला चौक, तारामंडल मैदान, विद्यानगर सहित कई इलाकों में ब्राउन शुगर से लेकर गांजा तक की बिक्री खूब हो रही है. कई स्थान तो थाने के करीब होने के बाद भी पुलिस नशे के सौदागरों को नहीं पकड़ रही है.

advt

झारखंड के जिलों में कहीं गांजा तो कहीं अफीम की खेती होती है. नशीले पदार्थ की खेती को नष्ट करने के लिए पुलिस तो अभियान चलाती है, लेकिन इसके बावजूद भी पूरी तरह से नशीले पदार्थ की फसल नष्ट नहीं हो पाती है.

केस 1- 23 अप्रैल 2021

गांजे की खेप रांची से दिल्ली जा रही थी. लेकिन उत्तर प्रदेश की पुलिस ने प्रयागराज-कानपुर हाईवे पर एक ट्रक में बोरियों में भरा 12 क्विंटल छह किलोग्राम गांजा जब्त किया था. मौके से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया और एक आरोपी भागने में सफल रहा था.

इसे भी पढ़ें : 46 बरस पहले इंदिरा ने छीना था लोगों से जीने का अधिकार !

केस 2- 14 अप्रैल 2021

रांची से 15 किलो गांजे की खेप बनारस भेजी जा रही थी. जिसे खेलगांव थाने की पुलिस ने पकड़ लिया और एक आरोपित को भी दबोचा था. खेलगांव थाने की पुलिस ने हजारीबाग रोड स्थित तिरूपति पेट्रोल पंप के पास से 15 किलो गांजा के साथ बिहार के बक्सर जिले के मुगांव निवासी सत्येंद्र कुमार सिंह को हिरासत में लिया था. पूछताछ में आरोपित ने बताया था कि रांची रेलवे स्टेशन में रंजीत साहु नामक व्यक्ति ने उसे गांजा दिया था. उसने यह कहा था कि गांजा बनारस पहुंचा दो. इस एवज में उसे दस हजार रुपये कमीशन दिया जाएगा. बनारस में बस से उतरते ही एक व्यक्ति उससे गांजा ले लेगा.

केस 3- 13 मार्च 2021

रांची पुलिस ने एक सूमो की जांच की, तो सूमो के दरवाजे में बने बॉक्स में दर्जनों पॉकेट रखे हुए थे. पॉकेट की जांच की गई तो उनमें गांजा रखा हुआ था. जब्त सामानों में 40 पॉकेट गांजा था, जिसमें एक किलोग्राम के 19 पॉकेट, दो किलोग्राम के 1 पॉकेट, आधा किलोग्राम के 20 पॉकेट गांजा था. जब्त गांजा की वजन 31 किलोग्राम है.

इसे भी पढ़ें : रूपा तिर्की की मौत मामले की ज्यूडिशियल इंक्वायरी शुरू. आयोग से मिले होम सेक्रेटरी और डीजीपी

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: