Main SliderNational

आत्मनिर्भरता पर राजनाथ सिंह का बड़ा ऐलान:101 उपकरणों के आयात पर लगेगी रोक, देश में होगा निर्माण 

NewDelhi : आत्मनिर्भर भारत बनने की दिशा में केंद्र सरकार ने बड़ी पहल की है. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार की सुबह एलान किया कि रक्षा मंत्रालय ने 101 ऐसे उपकरणों की लिस्ट तैयार की है, जिसके आयात पर रोक लगेगी. तैयार की गयी लिस्ट में हाई टेक्नोलॉजी वेपन्स के अलावा कुछ सामान्य उपरकण भी हैं.  इसकी जानकारी खुद राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके दी.

राजनाथ सिंह में ट्वीट में लिखा है कि, रक्षा के क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता का ये बड़ा कदम है. रक्षा मंत्री ने लिखा है, पीएम नरेंद्र मोदी के आह्वान के बाद ही ये बड़ा फैसला लिया गया है. और इस फैसले से देश में जो डिफेंस फैक्ट्री हैं, उन्हें उत्पादन का बड़ा मौका मिलेगा.

इसे भी पढ़ें – निजीकरण और सरकारी कंपनियों को बेच रोजगार छीन रही मोदी सरकार, 9 अगस्त से युवा कांग्रेस चलाएगी ‘रोजगार दो’ अभियान

advt

राजनाथ सिंह ने अपने लगातार किये गये ट्वीट में कहा है कि, इस लिस्ट में सिर्फ कुछ पार्ट्स ही नहीं बल्कि  हाई टेक्नोलॉजी वाले हथियार जैसे- आसॉल्ट राइफल,ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, सोनार सिस्टम, रडार और LCH के अलावा भी कई चीजें शामिल हैं.

adv

 

रक्षा मंत्री ने कहा है कि पहले सभी स्टेकहोल्डर्स से विचार किया जायेगा, उसके बाद ही रक्षा उरकरणों के आय़ात पर रोक लगायी जायेगी. फिलहाल जो फैसला लिया गया है, उसे 2020 से लेकर 2024 के बीच लागू किया जायेगा. तैयार की गयी 101 उपरकरणों की लिस्ट में आर्मड फाईटिंग व्हीकल्स भी शामिल है.

राजनाथ सिंह ने ट्वीट में कहा है कि, सभी स्टेकहोल्डर्स मसलन सशत्र बल के अलावा सरकारी उद्योंगे से सलाह के बाद ही ये लिस्ट तैयार की गयी है. साथ ही लिखा है कि सलाह के दौरान देश में गोला बारूद के अलावा अन्य तरह के उपकरणों के निर्माण को लेकर भी वर्तमान और भविष्य की क्षमता का भी आकलन किया गया.

 

राजनाथ सिंह ने बताया कि इस लिस्ट को रक्षा मंत्रालय ने सभी स्टे कहोल्डकर्स जैसे कि सशस्त्र बलों, निजी और सरकारी उद्योगों से विचार विमर्श के बाद तैयार किया है. बातचीत के दौरान भारत में गोला-बारूद और विभिन्न रक्षा उपकरणों के निर्माण को लेकर भारतीय उद्योग की मौजूदा और भविष्य की क्षमताओं का आकलन भी किया गया.

इसे भी पढ़ें – JSMDC-2 : डीलरों-ठेकेदारों के पास 7 करोड़ CFT बालू का स्टॉक, फिर भी किल्लत

 

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button