न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल सर…नहीं, राहुल थे छात्राओं के बीच, पूछा, क्या आपको लगता है जॉब मिल जायेगी?

कार्यक्रम में राहुल गांधी से एक छात्रा ने देश की महिलाओं की स्थिति पर सवाल पूछा. तो कांग्रेस अध्यक्ष का जवाब था कि दक्षिण भारत में महिलाओं की स्थिति उत्तर भारत के राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, बिहार से बहुत बेहतर है.

52

Chennai : लोकसभा चुनावों के संदर्भ में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को चेन्नई में छात्राओं के बीच पहुंचे. स्टूडेंट्स के बीच राहुल जींस और टीशर्ट में अलग अंदाज में नजर आये. बता दें कि राहुल ने प्रश्न पूछनेवाली छात्राओं से राहुल सर… की जगह सीधे राहुल बोलने की अपील की. छात्राओं के बीच कहा कि आनेवाला चुनाव विचारधारा की लड़ाई है.  कहा कि ह बांटने की नीति के खिलाफ जोड़ने की नीति की लड़ाई है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल ने दक्षिण भारत में महिलाओं की स्थिति की तारीफ कर खूब तालियां बटोरी और वाहवाही लूटी. बता दें कि रॉबर्ट वाड्रा को लेकर पूछे जाने पर उन्होंने कहा,  उनके बारे में क्या?  कानून सबके लिए समान है और सरकार को इस पर फैसला लेने का अधिकार है. छात्राओं के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में राहुल गांधी से एक छात्रा ने देश की महिलाओं की स्थिति पर सवाल पूछा. तो कांग्रेस अध्यक्ष का जवाब था कि दक्षिण भारत में महिलाओं की स्थिति उत्तर भारत के राज्यों जैसे उत्तर प्रदेश, बिहार से बहुत बेहतर है.

खास कर तमिलनाडु में महिलाओं की स्थिति अच्छी है. इस पर छात्राओं ने ताली बजाकर राहुल का स्वागत किया. राहुल ने महिला आरक्षण बिल पर मौजूदा सरकार को घेरा और कहा कि महिलाएं पुरुषों से अधिक स्मार्ट होती हैं.

इसे भी पढ़ेंः पीएम मोदी के गढ़ गुजरात में प्रियंका का बड़ा हमला, बोलीं- जो देश में हो रहा उसे देख दुख होता है

 क्या नोटबंदी अच्छा फैसला था?

देश की अर्थव्यवस्था को लेकर पूछे जाने पर राहुल गांधी ने स्टूडेंट्स से पूछा कि क्या नोटबंदी अच्छा फैसला था? क्या प्रधानमंत्री ने इस फैसले से पहले देश से राय ली? कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, देश में भेदभाव से भरा और नेगेटिव माहौल हो तो आर्थिक वृद्धि नहीं हो सकती. अगर हमारी सरकार सत्ता में आती है तो हम जीएसटी में सुधार करेंगे. राहुल ने इसके बाद पूछा कि क्या आपने अनिल अंबानी, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, विजय माल्या का नाम सुना है? कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, आपके पैसे, आपके पैरंट्स के पैसे लेकर ये लोग भाग गये.कहा कि बैंकों का काम है कि नये युवा उद्यमियों को बैंकों से लोन दें, ताकि वह अपना बिजनस शुरू करें.  मैं दावा कर सकता हूं कि अगर आपको 30 लाख रुपये बैंक दे तो आप नीरव मोदी से अधिक जॉब देश के लिए क्रिएट कर सकते हैं. देश में रोजगार की स्थिति को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा,

आपको लगता है कि इस शानदार कॉलेज से पढ़कर निकलते ही आपको जॉब मिल जायेगी. आज देश के सामने सबसे बड़ी चुनौती आनेवाले दिनों में चीन से है. देश में रोजगार सृजन नहीं हो रहा है. राहुल गांधी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि मेरी मां ने मुझे सबसे प्यार करने की सीख दी.  इसके बाद राहुल ने छात्रा से पूछा कि आपकी मां ने आपको क्या सिखाया. जवाब में छात्रा ने कहा कि मेरी मां ने मुझे हर इंसान से प्यार से पेश आने की सीख दी.

इसे भी पढ़ेंः पीएम का राहुल, ममता, पवार, चंद्रबाबू, मायावती, अखिलेश, तेजस्वी से आग्रह, वोट डालने के लिए जनता को जागरुक करें
Related Posts

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने कहा, भाजपा की जीत राष्ट्रीय ताकतों की जीत

आरएसएस महासचिव भैयाजी जोशी ने एक बयान में कहा, भारत के करोड़ों लोग एक स्थिर सरकार पाने के लिए भाग्यशाली हैं.

राफेल सौदे में अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाया

रॉबर्ट वाड्रा पर पूछे सवाल के जवाब में राहुल ने बेहद सख्त अंदाज में कहा मिस्टर वाड्रा की जांच होनी चाहिए, मैं पहला इंसान हूं, जो यह कह रहा हूं. कहा कि प्रधानमंत्री मोदी पर भी जांच होनी चाहिए. पीएम मोदी कभी राफेल पर नहीं बोलते. आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने निजी तौर पर राफेल सौदे में अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाया. उन्होंने एचएएल को हटाकर अनिल अंबानी को यह कॉन्ट्रैक्ट दिलाया. जेंटलमैन ने कहा था कि वह चौकीदार हैं तो इसकी शुरुआत खुद से करें. अपने खिलाफ भी जांच की अनुमति दें. प्रधानमंत्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा, आपमें से कितनों ने कितनी बार पीएम मोदी को 3000 महिलाओं के बीच इस तरह खड़े होते देखा. प्रधानमंत्री मोदी में यह साहस नहीं है कि वह महिलाओं के सवालों का इस तरह से सामना कर सके.

उन्होंने कहा कि वह छात्रों के साथ संवाद में यकीन रखते हैं क्योंकि इससे उन्हें सीखने का मौका मिलता है.  प्रधानमंत्री मोदी को गले लगाने के सवाल के जवाब में मुस्कुराते हुए कहा कि हर धर्म में यही सिखाया जाता है कि प्यार ही जिंदगी की बुनियाद है. मैं गुस्से में नहीं, प्यार में यकीन करता हूं.

जुबान फिसल गयी : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की  चेन्नई के कॉलेज में विद्यार्थियों से बातचीत करते हुए अचानक जुबान फिसल गयी. बता दें कि जब वह भगोड़े आर्थिक अपराधियों और देश के कथित करप्ट उद्योगपतियों  की बात कर रहे थे तो उन्होंने नीरव मोदी की जगह नरेंद्र मोदी का नाम ले लिया. हालांकि इसका अहसास होते ही उन्होंने अपनी गलती सुधारी, मगर तब-तक हॉल ठहाकों से गूंज उठा. राहुल गांधी ने इस दौरान स्टूडेंट्स के तमाम  सवालों के जवाब भी दिये. राहुल गांधी ने 13 हजार करोड़ से ज्यादा के बैंक लोन घोटाले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी की चर्चा की.

इसे भी पढ़ेंः 2019  लोकसभा चुनाव :  भाजपा की एक हजार सभाएं, पीएम मोदी करेंगे 200 सभा !

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

hosp22
You might also like
%d bloggers like this: