न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#PublicPrivatePartnership : मोदी सरकार छह और एयरपोर्ट निजी हाथों में सौंपेगी, छह एयरपोर्ट #AdaniGroup के पास हैं

पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत देश छह हवाई अड्डों के संचालन का ठेका अडाणी समूह को मिला था. इस समूह को यह ठेका 50 साल तक के लिए मिला है.

256

NewDelhi : नरेंद्र मोदी सरकार जल्द  ही छह और एयरपोर्ट को निजी हाथों में सौंपने की कवायद में है.  सूत्रों के अनुसार  छह Airport के Privatization के लिए अगले चरण की शुरुआत हो चुकी है.   जिन छह  एयरपोर्ट का  निजीकरण किया जाना है, उनमें वाराणसी, रायपुर, इंदौर, भुवनेश्वर, अमृतसर, तिरची शामिल हैं. जान लें कि वर्तमान में  एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया इन सभी एयरपोर्ट को ऑपरेट करती है.

इसे भी पढ़ें : #Hony_trap सेक्स रैकेट ने नेताओं के साथ 13 IAS को लिया था टारगेट में, वीडियो से  करती थीं ब्लैंक मेलिंग

Sport House

अडाणी समूह ने सबसे ऊंची बोली लगाई थी

बता दें कि प्रथम चरण में 6 एयरपोर्ट की नीलामी की जा चुकी है. पहले चरण में अदानी, जीएमआर, जीवीके जैसी कंपनियों से अच्छा रिस्पॉन्स मिला था.  इसके लिए मंगाई गयी बोलियां पिछले 25 फरवरी को खोली गयीं. अदानी एंटरप्राइजेज को छह एयरपोर्ट का जिम्मा मिला था.

सभी छह अहमदाबाद, तिरुवनंतपुरम, लखनऊ, मेंगलुरु, जयपुर और गुवाहाटी हवाई अड्डों के परिचालन के लिए अडाणी समूह ने सबसे ऊंची बोली लगाई थी.पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत देश छह हवाई अड्डों के संचालन का ठेका अडाणी समूह को मिला था.

इस समूह को यह ठेका 50 साल तक के लिए मिला है. सरकार ने पिछले साल नवंबर में एएआई द्वारा परिचालित किये जाने वाले छह हवाई अड्डों को पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत चलाने की अनुमति दी थी.

Related Posts

#CAA पर मचे बवाल के बीच सीतारमण ने कहा, पिछले छह सालों में मुस्लिमों सहित 3924 शरणार्थियों को दी गयी भारतीय नागरिकता

6 सालों में 2838 पाकिस्तानी शरणार्थियों, 914 अफगानिस्तानी शरणार्थियों और 172 बांग्लादेशी शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दी गयी, जिनमें मुस्लिम समुदाय के लोग भी शामिल हैं.

Vision House 17/01/2020

केंद्र सरकार को भरोसा है कि जिस तरह  प्रथम चरण में सरकार ने कंपनियों को खरीदने में दिलचस्पी दिखाई थी उसी तरह दूसरे चरण में भी ये निजी कंपनियां दिलचस्पी दिखा सकती हैं.

सरकारी कंपनियों के एसेट मॉनेटाइजेशन पर बनी कमेटी ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. जान लें कि कैबिनेट सचिव ने भी इस प्रस्ताव को मंजूरी दी है.

SP Deoghar

इसे भी पढ़ें :#PMModi की #EconomicAdvisoryCouncil से दो सलाहकार हटाये गये, करते रहे थे सरकार की आलोचना

Mayfair 2-1-2020

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like