न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

प्रधानमंत्री मोदी ने एशियाई खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन पर भारतीय दल को दी बधाई

भारत पदक तालिका में आठवें स्थान पर रहा.

248

Delhi: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इंडोनेशिया में हुए 18वें एशियाई खेलों में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने पर भारतीय दल को शुभकामनाएं दी है. भारत ने इन खेलों में 15 स्वर्ण, 24 रजत और 30 कांस्य पदक के साथ कुल 69 पदक हासिल किया जो इंचियोन में हुए एशियाई खेलों में हासिल किये गए 65 पदक से ज्यादा हैं.

लोकतंत्र में सबको बोलने की आजादी, पर देश तोड़ने की नहीं  : राजनाथ  सिंंह

पदक तालिका में आठवें स्थान पर भारत

hosp3

भारत ने स्वर्ण पदक के मामले में 1951 में दिल्ली में हुए पहले एशियाई खेलों की बराबरी की लेकिन भारतीय दल ने पहली बार 24 रजत पदक हासिल किए. भारत पदक तालिका में आठवें स्थान पर रहा.
प्रधानमंत्री ने श्रृंखलाबद्ध तरीके से कई ट्वीट किए. उन्होंने कहा कि मैं एक बार फिर भारतीय दल को शुभकामनाएं देता हूं. एशियाई खेलों के इतिहास में 2018 के खेल भारतीय इतिहास के लिए सर्वश्रेष्ठ रहे हैं. इसमें जिस खिलाड़ी ने भी हिस्सा लिया वह भारत की शान है.

इसे भी पढ़ेंः भारी बारिश से गिरी घर की छत, गर्भवती महिला और दो बच्चे घायल

भारतीय खेलों के लिए बिल्कुल सकारात्मक संकेत

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि इस टूर्नामेंट में जिन खेलों में हम परंपरागत रूप से मजबूत है उसमें टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया और इसके साथ ही हमने ऐसे खेलों में शानदार प्रदर्शन किया है जिसमें पहले अच्छा नहीं किया था. उन्होंने कहा कि यह भारतीय खेलों के लिए बिल्कुल सकारात्मक संकेत है.

भविष्य के प्रयासों के लिए दी शुभकामनाएं

मोदी ने ट्वीट किया कि मैं खिलाड़ियों के कोचों, सहायक स्टाफ, माता-पिता, परिवार और दोस्तों को सलाम करता हूं. लगातार हमारे चैंपियन का समर्थन करने के लिए उनका धन्यवाद. खिलाड़ियों को उनके भविष्य के प्रयासों के लिए मेरी शुभकामनाएं.
इसे भी पढ़ेंः एमपीः जनआशीर्वाद यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री चौहान के रथ पर पथराव, सीएम सुरक्षित

प्रधानमंत्री ने इस मौके पर इन खेलों के यादगार आयोजन के लिए इंडोनेशिया के राष्ट्रपति को भी बधाई दी. उन्होंने कहा कि  इन खेलों ने खिलाड़ियों के शानदार प्रदर्शन के साथ खेल कौशल की अद्भुत भावना देखने को मिली.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: