न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी  प्रमुख  शरद पवार को भी मोदी से डर लगने लगा है

राकांपा प्रमुख शरद पवार ने  कहा कि वह इस बात को लेकर बहुत डरे हुए हैं कि पता नहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आगे क्या कर दें.  

104

Mumbai : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी  प्रमुख शरद पवार को भी मोदी से डर लगने लगा है. राकांपा प्रमुख शरद पवार ने  कहा कि वह इस बात को लेकर बहुत डरे हुए हैं कि पता नहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आगे क्या कर दें.  श्री पवार ने शनिवार को यह बात कही. पवार ने बारामती लोकसभा क्षेत्र में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, मोदी कहते हैं कि वह मेरी अंगुली पकड़कर राजनीति में आये. लेकिन अब मैं बहुत डरा हुआ हूं, क्योंकि यह आदमी क्या करेगा, कोई नहीं जानता.

बता दें कि एक बार मोदी ने पवार को राजनीति में अपना गुरु बताया था. बारामती लोकसभा क्षेत्र से पवार की बेटी सुप्रिया सुले चुनाव मैदान में है. मोदी ने 2016 में पुणे जिले में एक समारोह में राकांपा प्रमुख के साथ मंच साझा करते हुए कहा था कि वह पवार की अंगुली पकड़कर राजनीति में आये थे.

 इसे भी पढ़ें – पाक के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिरानेवाले विंग कमांडर अभिनंदन के लिए ‘वीर चक्र’ की…

जिसका परिवार ही न हो वह इसे कैसे समझ सकता है

पवार ने कहा कि भाजपा प्रमुख अमित शाह ने हाल में बारामती का दौरा किया था और केन्द्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को इस क्षेत्र में एक जनसभा को संबोधित करना है.  उन्होंने आश्चर्य जताया कि क्यों पूरे देश को इस जगह का दौरा करने में दिलचस्पी है. उन्होंने कहा कि भाजपा पूछ रही है कि यूपीए  सरकार ने क्या किया था लेकिन वह यह बताने में विफल रही है कि उसने सत्ता में रहने के दौरान दस साल में क्या किया.  पवार ने कहा, मोदी ने महाराष्ट्र में सात (चुनाव) रैलियां की और इन सभी रैलियों में मुद्दा शरद पवार था.

hotlips top

इससे पूर्व शरद पवार ने प्रधानमंत्री मोदी का नाम लिये बिना कहा कि जिसका परिवार ही न हो वह इसे कैसे समझ सकता है.  यहां पुरंदर में अपनी बेटी एवं राकांपा सांसद सुप्रिया सुले के लिए चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पूर्व कृषि मंत्री ने मोदी सरकार पर किसानों के हित को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया.

उन्होंने कहा कि वह जब तक जिंदा हैं,  तब तक किसानों का समर्थन करेंगे. मोदी ने एक अप्रैल को वर्धा में रैली के दौरान पवार पर निशाना साधते हुए कहा था कि उनके भतीजे एवं महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार की वजह से पैदा हुई पारिवारिक कलह की वजह से राकांपा पर उनकी पकड़ कमजोर होती जा रही है. राकांपा की ओर से जारी एक बयान में पवार के हवाले से कहा गया कि शुक्रवार की रैली में उन्होंने कहा, जिसका परिवार नहीं है वह कैसे समझ सकता है कि परिवार क्या होता है?

पवार ने कहा कि सरकार राज्य में सूखे को लेकर गंभीर नहीं है. उन्होंने कहा, मेरे पोते रोहित ने अहमदनगर के करजात में टैंकरों के जरिए पानी उपलब्ध कराया. असल में यह काम सरकार का था. लेकिन हम लोगों के साथ हैं.

 इसे भी पढ़ें – साध्वी प्रज्ञा का नया विवादित बयान – बाबरी मस्जिद गिराने पर उन्हें है गर्व, आयोग ने दिया नोटिस

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like