National

ममता कहा, सीएम नहीं बने रहना चाहती, इस्तीफे की पेशकश, आयोग, केंद्रीय सुरक्षा बल पर लगाये आरोप

विज्ञापन

Kolkata : लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे आने के बाद पश्चिम बंगाल में सियासी तापमान बढ़ता जा रहा है. बता दें कि राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस्तीफे की पेशकश की है.  साथ ही ममता ने चुनाव आयोग, केंद्रीय सुरक्षा बल समेत केंद्र सरकार पर उनके खिलाफ काम करने का आरोप भी लगाया.  बता दें कि शनिवार को तृणमूल कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में कम हुई सीटों पर चर्चा करने के लिए मीटिंग की.

इस मीटिंग के बाद ममता बनर्जी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जिसमें उन्होंने कहा कि मैंने मीटिंग की शुरुआत में ही कह दिया था कि मैं अब सीएम के तौर पर काम नहीं करना चाहती.  खबरों के अनुसार टीएमसी नेताओं ने उनके इस्तीफे की पेशकश नामंजूर कर दी है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में ममता ने चुनाव आयोग और केंद्रीय बल पर आरोप भी लगाये.  उन्होंने कहा, केंद्रीय सुरक्षा बल ने मेरे खिलाफ काम किया. आपातकाल की सी स्थिति पैदा कर दी गयी थी.  हिंदू-मुस्लिम के नाम पर वोटों को बांटा गया. हमने चुनाव आयोग को शिकायत की, लेकिन उन्होंने भी कुछ नहीं किया.

इसे भी पढ़ें-  नरेंद्र मोदी एनडीए संसदीय दल के नेता चुने गये, 30 मई को पीएम पद की शपथ लेंगे

भाजपा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 18 सीटें हासिल की

लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे आने के बाद पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की अगुआई वाली तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) को बड़ा झटका लगा है. भाजपा ने राज्य में शानदार प्रदर्शन करते हुए 18 सीटें हासिल की हैं. टीएमसी अपने पिछले प्रदर्शन को नहीं दोहरा सकी है.

advt

टीएमसी ने 43.3 प्रतिशत वोट शेयर के साथ 42 में से 22 लोकसभा सीटें जीतीं.  इस बार के लोकसभा चुनाव में भाजपा को 40.3 प्रतिशत वोट शेयर के साथ 2 करोड़ 30 लाख 28 हजार 343 वोट हासिल हुए हैं.  वहीं, टीएमसी को 43.3 फीसदी वोट शेयर के साथ 2 करोड़ 47 लाख 56 हजार 985 मत मिले हैं.

इसे भी पढ़ें- भाजपा की बंपर जीत पर ममता ने ट्विटर पर एक कविता पोस्ट की, आई डोन्ट एग्री…

Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close