National

#Maharashtra : #BJP के वॉकआउट के बीच CM उद्धव ठाकरे फ्लोर टेस्ट में पास

विज्ञापन

Mumbai : महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे की सरकार ने भाजपा के वाकआउट के बीच विधानसभा में फ्लोर टेस्ट पास कर लिया. सरकार को 169 विधायकों का समर्थन मिला, जबकि बहुमत के लिए 145 विधायक चाहिए.  इससे पहले सत्र की शुरुआत होते ही भाजपा के विधायकों ने हंगामा किया कि अधिवेशन नियमों के खिलाफ बुलाया गया है.

अधिवेशन नियमों और संविधान के खिलाफ बुलाया गया : फडणवीस 

भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने आरोप लगाया कि यह अधिवेशन नियमों और संविधान के खिलाफ बुलाया गया है. साथ ही कहा कि यह सदन वंदे मातरम के साथ शुरू होना चाहिए था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ.  सदन की शुरुआत राष्ट्रीय गीत के साथ होने का नियम रहा है.  देवेंद्र फडणवीस ने प्रोटेम स्पीकर को बदलने पर भी सवाल किया.

इस क्रम में प्रोटेम स्पीकर ने शांति बनाये रखने की अपील करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार  सत्र का लाइव टेलिकास्ट किया जा रहा है. साथ इससे पहले शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के नेताओं ने पूर्ण बहुमत का दावा किया.  बहुमत परीक्षण से पहले तीनों दलों ने विप जारी कर दिया. सदन में जाने से पहले सीएम उद्धव ठाकरे ने शिवाजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया.

advt

इसे भी पढ़ें : #Maharashtra : कांग्रेस नेता नाना पटोले होंगे शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के स्पीकर उम्मीदवार

आसानी से बहुमत हासिल करने का दावा

महा विकास अघाड़ी के नेताओं ने दावा किया कि  उनके पास कई छोटे दलों का भी समर्थन है.  ऐसे में वह आसानी से बहुमत हासिल कर लेंगे. दावा किया गया कि शिवसेना के 56, एनसीपी के 54 और कांग्रेस के 44 विधायकों के अलावा स्वाभिमानी शेतकारी के एक, बहुजन विकास अघाड़ी के 3 और 8 निर्दलीय विधायकों का भी समर्थन है.

महा विकास अघाड़ी 170 विधायकों के समर्थन मिलने की बात कही है.  कहा कि एमएनएस, पीडब्ल्यूपी और सीपीआई के एक-एक विधायक भी महाविकास अघाड़ी सरकार के समर्थन में अपना मत देंगे.
इसे भी पढ़ें : #UddhavThackeray बोले, #Saffron मेरा पसंदीदा रंग, किसी लॉन्ड्री में धुलाई से नहीं जानेवाला

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button