JharkhandLead NewsNationalNEWS

जानिए पत्रकार ने रजनीकांत के बारे में जावेड़कर से कौन सा सवाल किया जिससे उनको आया गुस्सा

New Delhi: सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) को इस साल प्रतिष्ठित दादासाहेब फाल्के पुरस्कार (Dadasaheb Phalke Award) से सम्मानित किया जाएगा. सिनेमा में दिए गए अपने योगदान के लिए रजनीकांत को दादासाहेब फाल्के 2019 के अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा. केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने आज इसकी घोषणा की. जब उनसे पूछा गया कि रजनीकांत को दादा साहेब फालके अवार्ड दिया जाना कहीं तमिलनाडु में होनेवाले चुनाव से प्रभावित तो नहीं. इस पर मंत्री प्रकाश जावेड़कर नाराज हो गये. उन्होंने कहा कि सवाल तो सही पूछा करिये. उन्होंने यह भी कहा कि तमिलनाडु विधानसभा चुनाव (Tamil Nadu Assembly Elections) से इसका कोई लेना देना नहीं है. श्री जावेड़कर ने कहा कि ये अवार्ड सिने जगत से जुड़ा हुआ है. इसमें राजनीति कहां से आ गयी.

प्रकाश जावड़ेकर ने अपने एक ट्वीट में कहा कि यह घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि 2019 के लिए दादासाहेब फाल्के का पुरस्कार भारतीय सिनेमा के इतिहास के महान अभिनेता रजनीकांत को दिया जा रहा है. एक्टर, प्रोड्यूसर और स्क्रीनराइटर के रूप में उनका योगदान प्रतिष्ठित है.

पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दादासाहेब फाल्के पुरस्कार रजनीकांत को दिए जाने पर अभिनेता को शुभकामनाएं दी हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा- “कई पीढ़ियों में मशहूर, विभिन्न भूमिकाएं और एक स्थायी व्यक्तित्व… रजनीकांत जी यह सभी आपके लिए है. यह बेहद खुशी की बात है कि थलाइवा को दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. उन्हें ढेर सारी शुभकामनाएं.”

इसे भी पढ़ें: Ranchi News: एक मई तक रांची-पटना फ्लाइट रद, कई फ्लाइटों के समय में बदलाव

फिल्म ‘अपूर्व रागंगल’ के साथ अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी

रजनीकांत ने 1975 में के.बालाचंदर की फिल्म ‘अपूर्व रागंगल’ के साथ अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी. रजनीकांत के कॉलीवुड इंडस्ट्री में 46 साल पूरे हो चुके हैं. रजनीकांत को पिछली बार एआर मुरुगादास की फिल्म ‘दरबार’ में देखा गया था. फिलहाल, वह अपनी आगामी फिल्म ‘अन्नाट्टे’ की शूटिंग में व्यस्त हैं.

5 सदस्यों की ज्यूरी ने तय किया है रजनीकांत का नाम

हालांकि, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इन खबरों को दरकिनार किया है. उन्होंने कहा कि रजनीकांत को दादासाहेब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित किए जाने का फैसला 5 सदस्यों की ज्यूरी ने किया है. इस ज्यूरी में विश्वजीत चटर्जी, शंकर महादेवन, आशा भोंसले, मोहनलाल और सुभाष घई शामिल हैं. इस ज्यूरी के सर्वसम्मति से रजनीकांत को यह अवॉर्ड दिए जाने का फैसला लिया गया है.

इसे भी पढ़ें: Football : विश्व कप क्वालीफायर में नार्थ मेसोडोनिया ने रचा इतिहास , 20 साल में पहली बार हारा जर्मनी

 

 

 

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: