न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

गुमला : कार्तिक उरांव काॅलेज में बिना एडमिट कार्ड 42 छात्रों को दिला दी गयी परीक्षा, अब नहीं मिल रहा रिजल्ट

छात्र लगा रहे रांची यूनिवर्सिटी के चक्कर, प्रो वीसी ने कहा- वीसी के आने पर होगी कारवाई

852

Ranchi : रांची यूनिवर्सिटी प्रबंधन को अब आदत हो गयी है छात्रों को परेशान करने की. यहां प्रबंधन इस कदर लचर है कि इससे संबद्ध काॅलेजों में बिना एडमिट कार्ड के ही छात्रों की परीक्षा ले ली जा रही है. इसकी भनक रांची यूनिवर्सिटी को होते हुए भी इस पर कार्रवाई नहीं की जा रही है.

हम बात कर रहे हैं गुमला के कार्तिक उरांव काॅलेज की. जहां पिछले दो सालों से ऐसी ही स्थिति बनी हुई है. यहां परीक्षाएं तो होती है लेकिन कुछ छात्र ऐसे भी हैं जिनकी परीक्षा बिना एडमिट कार्ड के ही ले ली जा रही है. इस काॅलेज में 42 छात्र हैं, जिन्होंने बिना एडमिट कार्ट के ही परीक्षा दे दी. ये छात्र ग्रेजुएशन सत्र 2017-20 के हैं.

Trade Friends

छात्रों से जानकारी हुई कि 2017-20 सत्र की पहली परीक्षा साल 2017 में ली गयी. लेकिन उसमें 42 छात्रों का एडमिट कार्ड नहीं थी. जिसे लेकर छात्रों ने काॅलेज के प्रिंसिपल से इसकी शिकायत की. प्रिंसिपल ने छात्रों को कागज में खुद से रोल नंबर, नाम समेत अन्य जानकारी लिख कर परीक्षा देने की अनुमति दे दी.

यहां तक तो सब ठीक था. छात्रों के लगा कि चलो कम से कम साल तो बर्बाद नहीं हुआ. परीक्षा तो दे दी. लेकिन बात यहीं खत्म नहीं हुई, छात्रों की परेशानी और भी ज्यादा बढ़ गयी है. क्योंकि जिन छात्रों ने बिना एडमिट कार्ड के परिक्षा दी थी उनका रिजल्ट ही यूनिवर्सिटी की ओर से जारी नहीं किया जा रहा है.

पहले सेमेस्टर के रिजल्ट में छात्रों का नाम नहीं

यूनिवर्सिटी की ओर से पहले सेमेस्टर का रिजल्ट जब जारी किया गया तो उसमें बिना एडमिट कार्ड के परीक्षा दिए 42 छात्रों का नाम नहीं आया. इसके बाद भी इन छात्रों को काॅलेज प्रबंधन ने दूसरे सेमेस्टर की परीक्षा लिखने की अनुमति दे दी.

WH MART 1

यह परीक्षा भी छात्रों ने बिना एडमिट कार्ड के ही दिया. छात्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस परीक्षा के लिए भी छात्रों ने एडमिट कार्ड की मांग की थी, लेकिन काॅलेज प्रबंधन की ओर से इन छात्रों को बिना एडमिट कार्ड के ही परीक्षा देने की बात कही गयी. जब इस सेमेस्टर का रिजल्ट यूनिवर्सिटी की ओर से जारी किया गया तो इसमें इन 42 छात्रों के नाम के आगे नॉट प्रमोटेड लिखा था.

अब नहीं लिखने दी जा रही तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा

अब वर्तमान में यूनिवर्सिटी की ओर से ग्रेजुएशन के तीसरे सेमेस्टर की परीक्षा ली जा रही है. जिसमें इन छात्रों को परीक्षा लिखने नहीं दी जा रही. छात्रों ने इस बारे में रांची यूनिवर्सिटी के वीसी समेत कार्तिक उरांव काॅलेज के प्रिंसिपल को ज्ञापन सौंपा. लेकिन फिर भी इस संबध में कभी कोई कार्रवाई नहीं की गयी. परीक्षा नहीं लिखने दिए जाने की वजह से ये छात्र रांची यूनिवर्सिटी के चक्कर लगा रहे हैं.

प्रति कुलपति ने कहा वीसी के आने के बाद होगी कारवाई

इस संबध में रांची यूनिवर्सिटी की प्रति कुलपति डाॅ कामिनी कुमार से बात की गयी. उन्होंने बताया कि प्राचार्य को इस संबध में आकर यूनिवर्सिटी से एडमिट कार्ड लेना चाहिए था. लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. कुलपति अभी छुट्टी पर हैं. उनके आने के बाद इस मामले पर चर्चा कर कार्रवाई की जायेगी.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

kohinoor_add

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like