West Bengal

आतंकी की गिरफ्तारी के बाद बोले राज्यपाल- बंगाल बन गया है बम बनाने वालों का पनाहगाह

विज्ञापन

Kolkata. पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने एक बार फिर राज्य में बिगड़ती कानून व्यवस्था और एक के बाद आतंकियों की गिरफ्तारी को लेकर राज्य सरकार की कार्यशैली पर सवाल खड़ा किया है. इस संबंध में शनिवार को राज्यपाल धनखड़ के तीन ट्वीट किए.

अपने ट्वीट में राज्यपाल ने लिखा कि एनआईए ने पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में अलकायदा के मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में पश्चिम बंगाल के पुलिस महानिदेशक ( डीजीपी ) ने मुझसे कहा है कि पश्चिम बंगाल पुलिस मजबूती से कानून का पालन करती है. कानून का अतिरिक्त इस्तेमाल कर न तो किसी का साथ दिया जा सकता है और न किसी के खिलाफ कोई भेदभाव किया जा सकता है.

दुर्गा का रूप धारण करने को लेकर फिर मुस्लिम कट्टरपंथियों के निशाने पर नुसरत जहां

advt

आखिर जब पुलिस इतनी मजबूती से कानून का पालन कर रही थी तो यहां लगातार आतंकी मॉड्यूल स्थापित कैसे हो रहे हैं? डीजीपी का यह कहना कि कानून का इस्तेमाल किसी के साथ भेदभाव के लिए नहीं कर सकते, का क्या मतलब है?

राज्यपाल ने अपने ट्वीट में लिखा है कि बंगाल अवैध बम बनाने वालों का सुरक्षित पनाहगाह बन गया है. इससे लोकतंत्र अस्थिर हो सकता है जबकि ममता बनर्जी की पुलिस राजनीतिक कामों को पूरा करने और राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ कार्रवाई में व्यस्त है.

2025 तक रानीगंज कोल ब्लॉक क्षेत्र से मिथेन गैस का होगा उत्पादन

अपने ट्वीट के जरिए राज्यपाल ने पुलिसकर्मियों के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि वे पुलिसकर्मी, जो ईमानदारी से अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे हैं, बुरे नहीं हैं. शीर्ष पदों पर बैठे लोगों का बर्ताव राजनीतिक रूप से निर्देशित है. बंगाल पुलिस के डीजीपी का इस तरह का बर्ताव बहुत परेशान करने वाला है. वास्तविकता यह है कि बंगाल पुलिस के आला अधिकारी राजनीतिक रूप से निर्देशित हैं.

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button