JharkhandRanchi

#ED ने पूर्व मंत्री एनोस एक्का की 22.38 करोड़ की संपत्ति जब्त की

विज्ञापन

Ranchi: पूर्व मंत्री एनोस एक्का को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सात साल की सजा और 2 करोड़ रुपये का जुर्माना होने के बाद ईडी ने बड़ी कार्रवाई की है.

ईडी द्वारा एनोस एक्का की आवासीय संपत्ति, जमीन, बैंक अकाउंट, राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र, किसान विकास पत्र, वाहन, राइफल, पिस्तौल आदि के रूप में कुल 22.38 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की गयी है.

इसे भी पढ़ें : सोनिया गांधी पर अभद्र टिप्पणी पर भड़के कांग्रेसी, अर्णब गोस्वामी के खिलाफ दर्ज करायी प्राथमिकी

advt

मनी लॉन्ड्रिंग केस में कोर्ट ने सुनायी है 7 साल की सजा

आय से अधिक संपत्ति मामले में सात साल की सजा काट रहे पूर्व मंत्री एनोस एक्का को गुरुवार को मनी लांड्रिंग में भी सजा सुनायी गयी है.

ईडी के विशेष जज एके मिश्रा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए एनोस एक्का को 7 साल की सजा और 2 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है.

adv

ईडी कोर्ट ने सभी सम्पति जब्त करने का भी आदेश दिया था. एनोस एक्‍का के द्वारा जो भी सम्पति अवैध तरीके से कमायी गयी है या ब्लैक मनी को व्हाइट करने की नीयत से खरीदी गयी है, उसे ईडी जब्त करेगी.

बता दें कि बुधवार को अदालत ने गुरुवार को सजा सुनाने की तारीख तय की थी. एनोस पर 20 करोड़ 31 लाख 77 हजार रुपये मनी लांड्रिंग का आरोप है

21 मार्च को मनी लॉन्ड्रिंग केस में झारखंड के पूर्व मंत्री एनोस एक्का को कोर्ट ने दोषी करार दिया था. लॉकडाउन के कारण चार बार सजा की तिथि बढ़ानी पड़ी.

इसे भी पढ़ें : #CoronaVirus : रांची में और 4 कोरोना पॉजिटिव मरीज, राज्य में कुल 53 लोग संक्रमित

2009 में मनी लॉन्ड्रिंग का मुकदमा दर्ज किया गया था

दर्ज मामले के अनुसार, एनोस एक्का पर अक्टूबर 2009 में मनी लॉन्ड्रिंग का मुकदमा दर्ज किया गया था. मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट में ईडी ने कुल 56 गवाहों के बयान दर्ज करवाये.

जबकि एनोस ने अपने बचाव में 71 गवाहों के बयान दर्ज कराये. कोर्ट में मामले की सुनवाई के दौरान ईडी की टीम ने आरोपी एनोस द्वारा खरीदी गयी अचल संपत्ति से जुड़े 116 बिक्री पट्टों को अदालत में चिह्नित करवाया था.

ईडी के विशेष लोक अभियोजक ने कोर्ट में बहस करते समय इन दस्तावेजों को मुख्य सबूत बताया था.

इसे भी पढ़ें : गिरिडीह के बेंगाबाद में तीन वर्षीय बच्चे की गला दबाकर हत्या,  लॉकडाउन में सूरत में फंसा हुआ है पिता  

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button