न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राहुल गांधी के नेतृत्व में देश को भाजपा सरकार से मुक्ति दिलाने को तैयार : कांग्रेस

147

Nagpur : कांग्रेस कार्यसमिति की महाराष्ट्र के वर्धा में होने वाली बैठक से एक दिन पहले पार्टी ने सोमवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला और कहा कि वह दलितों-पिछड़ों का दमन तथा प्रजातंत्र का हनन करने वाली भाजपा सरकार से राहुल गांधी के नेतृत्व में देश को मुक्ति दिलाने के लिये तैयार हैं.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी आरोप लगाया कि मोदी सरकार अंग्रेजी हुकूमत की तरह मुट्ठी भर अमीरों के हित में काम कर रही है.

पार्टी महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर वर्धा में कार्य समिति की बैठक करने के साथ शांति मार्च निकालेगी और सभा भी करेगी.

hosp1

इसे भी पढ़ें : माननीयों के वेतन-भत्ते पर चार साल में 19.97 अरब रूपए खर्च : आरटीआई

भाजपा कर रही है दलितों-पिछड़ों का दमन

सुरजेवाला ने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस, महात्मा गाँधी के मार्ग पर चल कर, देश को आर्थिक अराजकता, किसानों के दमन, भ्रष्टाचारी, बैंक लूट, घोटालों व राफेल के घोटालेबाजों, बेरोजगारी, महिला उत्पीड़न, दलितों-पिछड़ों का दमन तथा प्रजातंत्र का हनन करने वाली भाजपा सरकार से मुक्ति दिलाने के लिये तैयार है.

उन्होंने कहा कि अंग्रेजी हुकूमत भी भारत के संसाधनों को लूट कर विदेश ले जाती थी. भाजपा सरकार भी भारत के बैंक लुटेरों को विदेश भागने की खुली छूट देकर भारत के संसाधनों पर डाका डाल रही है.

इसे भी पढ़ें : राहुल ने ट्वीट किया, मोदी सरकार में आम आदमी कतार में, क्रोनी कैपिटलिस्ट का कालााधन सफेद

उन्होंने कहा कि अंग्रेजी हुकूमत भी भारत के बहुलतावाद को कुचल कर फूट डालो और शासन करो की नीति अपनाए हुए थी. भाजपा सरकार भी सांप्रदायिक-जातीय-क्षेत्रीय बंटवारे और ध्रुवीकरण के बीज बोकर शकुनि की भांति हर हालत में सत्ता प्राप्ति के लिए राजनैतिक चौसर खेल रही है.

उन्होंने आरोप लगाया कि अंग्रेजी हुकूमत भी चंपारण में नील का तीन कठिया कानून बनाकर किसानों का दमन करती थी. भाजपा सरकार भी किसानों को फसलों के दाम न देकर आत्महत्या की ड्योढ़ी पर जबरन पहुंचाती है और न्याय मांगने पर किसान के सीने में गोलियां उतार देती है.

इसे भी पढ़ें : पति-पत्नी को छह महीने तक इंतजार की आवश्यकता नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने तलाक मंजूर किया

अंतिम पंक्ति के लोगों का हो रहा शोषण 

उन्होंने कहा, अंग्रेजी हुकूमत भी समाज की अंतिम पंक्ति के लोगों का शोषण कर गुलामी की जंजीरों में धकेलती थी. बीजेपी सरकार का डीएनए भी दलितों, आदिवासियों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों, महिलाओं तथा अंतिम पंक्ति में खड़े लोगों के शोषण एवं प्रताड़ना वाला है. सुरजेवाला ने कहा, अंग्रेजी हुकूमत भी नमक का काला कानून बना कर भारत के नागरिकों को भारी भरकम करों के बोझ तले दबाती थी. भाजपा सरकार भी गब्बर सिंह टैक्स (जीएसटी) और नोटबन्दी जैसे मनमाने फैसले थोप कर आम नागरिक और छोटे-छोटे दुकानदार तथा व्यवसायियों की रोजी रोटी पर कुठाराघात करती है.

इसे भी पढ़ें : एसबीआई के ग्राहक एटीएम से एक दिन में 40 नहीं, 20 हजार रुपये ही निकाल पायेंगे

उन्होंने दावा किया कि अंग्रेजी हुकूमत भी मुट्ठी भर अमीरों और जमींदारों के हितों को साधकर अपना शासन चलाती थी. मोदी सरकार भी मुट्ठी भर अमीरों और सरमायादारों के लिए काम कर रही है और गरीब के अधिकार छीन कर, भारत के संसाधनों को अपने मुट्ठी भर अमीर दोस्तों पर लुटा रही है.

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि यह सरकार विरोधियों की आवाज दबाने के लिए सरकारी एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: