न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
Browsing Category

Bhul Gai Sarkar

भूल गयी सरकार : CM ने 2 हजार वनरक्षी के पदों पर नियुक्ति का किया था वादा, एक साल से इंतजार में युवा

Ranchi : दो हजार वनरक्षी के पदों के लिए नियुक्ति करने की घोषणा मुख्यमंत्री ने की थी. यह घोषणा 16 जुलाई 2018 को मुख्यमंत्री ने नये विधानसभा परिसर में आयोजित वन महोत्सव के दौरान की थी.जेएसएससी के माध्यम से बहाली की जानी थी. इस दौरान…

10 हजार सिपाही और सालाना 2500 सहायक पुलिस के भर्ती की सीएम ने की थी घोषणा, नहीं हुई पूरी 

Ranchi: मुख्यमंत्री रघुवर दास के द्वारा झारखंड में 10000 सिपाही और प्रत्येक साल 2500 सहायक पुलिस की भर्ती करने की घोषणा अबतक पूरी नहीं हो पायी.तीन साल पहले 14 नवंबर 2016 को सीएम रघुवर दास के द्वारा यह घोषणाएं की गई थी.  हालांकि वर्ष 2017…

नक्सली हमले में शहीद इसरार के परिजनों को अब तक नहीं मिला मुआवजा और नियोजन

Ranjit SinghDhanbad : यह आजादी कई वीर जवानों ने अपने प्राणों की आहूति देकर हमें दिलायी है. आज भी इस आजादी को बरकरार रखने के लिए हमारे जाबांज अपनी जान की बाजी लगाते रहते हैं. चार अप्रैल 2019 को छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ में…

मीठी क्रांति में खटास: CM की घोषणा 10 हजार किसानों को बांटेंगे मधु बॉक्स, हकीकत में मात्र 118 को ही…

दस हजार के आंकड़े साल-दर-साल घटते जा रहे2018-19 में बांटे गये 1165 लाभुकों के बीच मधु बॉक्स, इस वित्तीय वर्ष 118 लाभुकों का है टारगेटदस हजार लाभुकों का आंकड़ा सरकार के टारगेट में भी नहींसाल 2019-20 के लिये एक करोड़ का बजटीय प्रावधान…

मोदी सरकार ने शहीदों के बच्चों की बढ़ायी स्कॉलरशिप और रघुवर सरकार ने पुलवामा शहीदों को ठगा

Ranchi: लगातार दूसरी बार प्रधानमंत्री बने नरेंद्र मोदी ने अपने दूसरे कार्यकाल में सबसे पहला फैसला शहीदों के बच्चों को दिए जाने वाली स्कॉलरशिप को बढ़ाने के तौर पर किया. शुक्रवार को मोदी सरकार की पहली कैबिनेट बैठक में नेशनल डिफेंस फंड के तहत…

वादा कर भूल गयी सरकारः सात महीने बाद भी 349 शहीदों के आश्रितों को नहीं मिला आवास 

Ranchi:  झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा शहीदों के आश्रितों को आवास देने का वादा सात महीने बीत जाने के बाद भी अधूरा है.बता दें कि मुख्यमंत्री ने 30 अक्टूबर 2018 को इप्‍सोवा दीपावली मेला के उद्घाटन पर घोषणा की थी कि झारखंड…

84 दिन बीते, तीन बार सैलेरी ली, पर घोषणा के मुताबिक झारखंड सरकार ने नहीं दी पुलवामा शहीदों के…

Ranchi: 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने बड़ी बेरहमी से देश के 44 सीआरपीएफ के जवानों धोखे से ब्लास्ट में उड़ा दिया था. सभी 44 शहीदों के लिए पूरा देश एक साथ खड़ा था. पुलवामा के बाद पाकिस्तान को भारत ने सबक सिखाने के…

भूल गयी सरकारः न दिल्ली जैसी सुविधाएं मिलीं, न सभी गांवों में पहुंची बिजली

Ranchi: झारखंड सरकार 15 नवंबर को राज्य स्थापना दिवस समारोह मना रही है. इससे पहले के तीन वर्षों में भी यह समारोह बड़ी धूमधाम से मनाया गया था और उसकी पूर्वसंध्या पर कई घोषणाएं की गयी थीं. बड़ी-बड़ी घोषणाएं तो की गयीं, लेकिन उनका हश्र क्या हुआ…

तीन ईएसआइ अस्पताल को बनाना था सुपर स्पेशियलिटी, एक भी नहीं बना

Ranchi : झारखंड में बहुमत की सरकार है. सरकार के मुखिया को इसका गुमान भी है. अक्सर कहते हैं कि हमने हर क्षेत्र में बहुत काम किया. झारखंड में ‘सबका साथ और सबका विकास’ हो रहा है. नेता-अधिकारी घोषणा कर, आदेश देकर हमें सपने दिखा जाते हैं. काम…

न रोजगार मिला, न सैन फ्रांसिस्को से निवेश आया और न ही बनी बेसहारा लोगों के लिए कोई नीति

Ranchi : झारखंड में बहुमत की सरकार है. सरकार के मुखिया को इसका गुमान भी है. अक्सर कहते हैं कि हमने हर क्षेत्र में बहुत काम किया. झारखंड में ‘सबका साथ और सबका विकास’ हो रहा है. नेता-अधिकारी घोषणा कर, आदेश देकर हमें सपने दिखा जाते हैं. काम…