Lead NewsTOP SLIDERTRENDINGWorld

BIG NEWS :  राष्ट्रपति ने पाकिस्तान नेशनल असेंबली भंग की, 90 दिन में चुनाव कराने को कहा, विपक्ष ने किया सदन पर कब्जा

स्पीकर की कुर्सी पर बैठे अयाज सादिक, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने बुलाई बैठक

Islamabad : पाकिस्तान की नेशनल असेंबली ने रविवार को इमरान खान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग होनी थी. नेशनल असेंबली में जिस तरह के समीकरण बने थे उसके हिसाब से प्रधानमंत्री इमरान खान की कुर्सी जानी तय तय लग रही थी. नेशनल असेंबली की कार्रवाई दोपहर में शुरू हुई.

पाकिस्तान की नेशनल असेंबली के डिप्टी स्पीकर कासिम खान सूरी ने रविवार को प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को संविधान के अनुच्छेद पांच के खिलाफ बताते हुए खारिज कर दिया. उन्होंने विदेशी साजिश का आरोप लगाकर इसे खारिज किया है. डिप्टी स्पीकर ने नेशनल असेंबली की कार्रवाई 25 अप्रैल तक स्थगित कर दी.

वहीं अविश्वास प्रस्ताव के खारिज होने से नाराज विपक्ष ने सदन पर कब्जा कर लिया है. विपक्ष ने अयाज सादिक को स्पीकर चुन कर अलग से अपनी कार्यवाही शुरू कर दी है.

इसे भी पढ़ें :लातेहार में खुलेगा Central School, शिक्षा मंत्रालय ने शुरू की पहल

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने बुलाई बैठक

विपक्ष ने सुप्रीम कोर्ट से भी गुहार लगाई है. विपक्ष का कहना है कि इमरान खान ने संविधान का उल्लघंन किया है. इस पर सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने इस गंभीर मामले पर विचार करने के लिए न्यायधीशों की बैठक बुलाई है

अटॉर्नी जनरल ने इस्तीफा

वहीं इन घटनाक्रमों के बीच पाकिस्तान के अटॉर्नी जनरल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है.

इसे भी पढ़ें :BIG NEWS : नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव खारिज, Imran ने संसद भंग करने की राष्ट्रपति से की सिफारिश

विपक्ष का दावा उसके पास 177 सदस्यों समर्थन

वहीं विपक्ष के सदस्य जब आज जब सदन में पहुंचे तो वे अविश्वास प्रस्ताव को लेकर आश्वस्त दिखाई दिए, लेकिन प्रस्ताव खारिज होने के बाद उन्होंने फैसले का विरोध किया. विपक्ष को इमरान खान को सरकार से बाहर करने के लिए निचले सदन में 342 में से 172 सदस्यों के समर्थन की ज़रूरत थी जबकि उन्होंने दावा किया है कि उनके पास 177 सदस्यों को समर्थन है.

क्या कहा इमरान ने

वहीं इससे पहले इमरान खान ने अपने भाषण में राष्ट्रपति से नेशनल असेंबली (संसद) को भंग करने की मांग की थी. इमरान ने पाकिस्तान के लोगों से चुनाव के लिए तैयार रहने को भी कहा है.

सेना ने कहा हमारा इससे कुछ लेनादेना नहीं

वहीं पाकिस्तान में सबसे ताकतवर मानी जानेवाली सेना का कहना है कि आज जो कुछ भी हुआ वो एक राजनीतिक प्रक्रिया है लेकिन उसका कुछ लेना देना नहीं है.

इसे भी पढ़ें :IMRAN KHAN :  क्रिकेट के पीच पर ग्रेट ऑलराउंडर से लेकर राजनीति में भी मैदान मारनेवाले इमरान के उत्थान और पतन की पूरी दास्तान

Related Articles

Back to top button