JharkhandRanchi

CM हेमंत सोरेन की अपील : श्रमिक बोझ नहीं बल्कि लक्ष्मी हैं, उन्हें हर सुविधा मुहैया करायें उद्योग समूह

Ranchi :  कोरोना वायरस को लेकर किये गये लॉकडाउन में श्रमिक वर्गों की आर्थिक स्थिति खराब हो चुकी है. इसे देखते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एक पहल की है. उन्होंने देश के बड़े उद्योगों से अनुरोध है कि इस आपदा की घड़ी में वे अपने श्रमिकों को सभी सुविधायें उपलब्ध करायें.

ऐसा कर उद्योगों के मालिक अपने सामाजिक उत्तरदायित्व को निभा सकेंगे. सीएम ने ऐसे लोगों से कहा है कि उन्हें याद रखना चाहिए कि हमारे श्रमिक बोझ नहीं बल्कि लक्ष्मी हैं. इन कर्मवीरों को आज आपके सहयोग की आवश्यकता है. सीएम ने उम्मीद जतायी है कि उनकी इस अपील पर वे जरूर कदम उठायेंगे साथ ही अपनी ज़िम्मेदारी को भी पूरा करेंगे.

इसे भी पढ़ें – #CoronaUpdates: राज्य में वायरस से दूसरी मौत, रांची के 56 साल के शख्स ने गंवाई जान

adv

मजदूरों के लिए मनेरगा मजदूरी दर बढ़ाने की कर चुके हैं अपील

बता दें कि लॉकडाउन के दौरान काम नहीं मिलने से परेशान मजदूर वर्गों के लिए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कई प्रयास किये है. इसमें सबसे प्रमुख केंद्र से मनरेगा मजदूरी दर बढ़ाकर 300 रूपये प्रति कार्य दिवस करने की मांग शामिल है.

सीएम हेमंत सोरेन का कहना है कि लॉकडाउन समाप्त होने के पश्चात लगभग 5.30 लाख मजदूरों के वापस झारखंड लौटने की संभावना है. ऐसे में मनरेगा के तहत निर्धारित कार्य दिवस की सीमा को बढ़ाया जाये, ताकि वापस झारखंड लौटे मजदूरों को रोजगार उपलब्ध कराया जा सके.

इसे भी पढ़ें – #LockDownEffect: भोक्ता पूजा में नहीं दिखेगा हैरतअंगेज करतब, कोरोना मुक्ति के लिए होगी शिव की आराधना

उद्योग समूह ने दिया है आर्थिक मदद

सीएम की इस अपील से पहले ही कई उद्योग समूहों ने पहले ही कोरोना से लड़ाई के लिए राज्य को आर्थिक मदद दी है. दो दिन पहले ही टाटा कंपनी ने 10 करोड़ और अडानी ग्रुप ने 1 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता झारखंड को दी है.

उन्होंने ये सहायता राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है. कंपनी द्वारा बताया गया है कि उनका सीएसआर विंग राज्य हित में हर संभव सहायता कर रही है.

इसे भी पढ़ें –LockDown में बढ़ा आत्महत्या का ग्राफ, 72 घंटे में 7 लोगों ने दी जान

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: