Education & CareerJharkhandRanchi

आकांक्षा कोचिंग : नये बैच के 92 स्टूडेंट्स को अब भी क्लास शुरू होने का इंतजार

Ranchi : माध्यमिक शिक्षा निदेशालय की ओर से चलाये जा रहे आकांक्षा कोचिंग का नया बैच बन चुका है. सत्र 2020 के इस बैच में मेडिकल परीक्षा की तैयारी के लिए 33 और इंजीनियरिंग परीक्षा की तैयारी के लिए 59 स्टूडेंट्स का बैच तैयार किया गया है. लेकिन इन स्टूडेंट्स की पढ़ाई अब तक शुरू नहीं हो पायी है. इस बारे में पूछने पर आकांक्षा कोचिंग कॉर्डिनेटर वीके सिंह ने कहा कि नये साल का बैच तैयार हो चुका है. कोरोना काल को देखते हुए साल 2019 के बैच की ऑनलाइन पढ़ाई करायी गयी थी. नये बैच के क्लासेस अगले सप्ताह से शुरू हो सकती है.

मुश्किलों के बीच ऑनलाइन पढ़ाई

आकांक्षा कोचिंग में पढ़ाई करने वाले स्टूडेंट्स और शिक्षकों से मिली जानकारी के अनुसार ऑनलाइन क्लासेस हो तो रहे हैं, लेकिन यह कारगर साबित नहीं हो रहा है. बीते साल संबंधित जिला के जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय से स्टूडेंट्स को किताबें उपलब्ध करा दी गयी थी. इसके बाद बच्चों का ऑनलाइन क्लासेस चलाया गया. इस कोचिंग में सुदूर जिलों के भी बच्चे पढ़ाई करते हैं. ऐसे में कई बच्चों

के पास मोबाइल की सुविधा नहीं है साथ ही कई बच्चों के घरों की नेटवर्क की समस्या होने की वजह से पढ़ाई में परेशानी आ रही है.
स्टूडेंट्स से बात करने पर उन्होंने बताया कि बायोलॉजी, मैथ्स और फिजिक्स का क्लास लगभग एक से डेढ़ घंटे चलता है. ऐसे में मोबाइल डेटा इन्हीं तीन क्लास में खत्म हो जाता है. स्टूडेंट्स का कहना है कि जिस तरह से विभाग किताबों की व्यवस्था करती है. उसी तरह ऑनलाइन पढ़ाई के लिए लैपटॉप और मोबाइल डेटा भी उपलब्ध कराये.

9 शिक्षक कराते हैं परीक्षाओं की तैयारी

आकांक्षा कोचिंग में विभिन्न विषयों के करीब नौ शिक्षक हैं, जो क्लास लेते हैं. जिसमें केमिस्ट्री के दो, मैथ्स के एक सहित अन्य विषयों के शिक्षक हैं. इन शिक्षकों को प्रति क्लास दो हजार रुपये दिये जाते हैं. शिक्षकों की संख्या और ऑनलाइन पढ़ाई के संबंध में स्टूडेंट्स का कहना है कि फिजिकल क्लासेस के दौरान विषयों को समझना आसान होता है. लेकिन ऑनलाइन क्लासेस के दौरान हमें परेशानी हो रही है.

इसे भी पढ़ें :कालका मेल एक्सप्रेस के समय में हुआ बदलाव, जानें क्या होगी नयी समय सारिणी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: