National

सौरव पर बनी रहेगी अडानी की कृपा, विज्ञापन से हटाने की खबरों का अडानी ग्रुप ने किया खंडन

Uday Chandra

New Delhi: फॉर्च्यून ब्रांड ने सौरव गांगुली से जुड़ी तमाम अफवाहों पर विराम लगा दिया है. कंपनी की ओर से बताया गया है कि राइस ब्रान कुकिंग ऑयल से जुड़े सौरव गांगुली के विज्ञापन को अस्थायी तौर पर अभी रोका गया है लेकिन वे कंपनी के ब्रांड एम्बेसेडर बने रहेंगे. बता दें कि फ़र्यून ब्रांड चर्चित अडानी ग्रुप का है.

अडानी समूह की कंपनी अडानी विल्मर ने एक बयान में स्पष्ट किया है कि भारचीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली का विज्ञापन अस्थायी रूप से रोका गया है. यह विज्ञापन आगे जारी रहेगा.

इसे भी पढ़ें- डीवीसी बिजली कटौती: जेबीवीएनएल ने मांगा 13 जनवरी तक का समय, सौ करोड़ किया जायेगा भुगतान

advt

विज्ञापनों से हटाने की फैली थी अफवाह

पहले अफवाह फैली थी कि चर्चित उद्योगपति गौतम अडानी की कंपनी अडाली विल्मर ने अपने फॉर्च्यून राइस ब्रांड कुकिंग ऑयल के सभी विज्ञापनों से सौरव गांगुली को हटा दिया है. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और बीसीसीआई के प्रमुख सौरव गांगुली अब इन विज्ञापनों में नहीं दिखेंगे.

इसे भी पढ़ें- आपके लिए बेहद जरूरी है कोरोना वैक्सीनेशन से जुड़े इन सवालों के जवाब जानना

कंपनी के विज्ञापन का बन रहा था मजाक

गांगुली को शनिवार को दिल का दौरा पड़ने के बाद उनकी एंजियोप्लास्टी की गयी है. इसके बाद सोशल मीडिया पर कंपनी के विज्ञापनों का मजाक उड़ाया जा रहा था क्योंकि गांगुली को पिछले साल जनवरी में फॉर्च्यून राइस ब्रान (Fortune Rice Bran) ‘हॉर्ट हेल्दी ऑयल’ का ब्रैंड एंबेसेडर बनाया था.

इस विज्ञापन में सौरव गांगुली हार्ट की देखभाल को बढ़ावा देते नजर आते हैं. कंपनी ने गांगुली के हार्ट अटैक को एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना बताते हुए कहा है कि यह किसी के साथ हो सकता है. कंपनी ने अपने हेल्जी ऑयल का बचाव करते हिए यह भी कहा है कि, ‘राइस ब्रान ऑयल कोई दवा नहीं है, यह केवल कुकिंग ऑयल है.

इसे भी पढ़ें- कहानी उस ग्रेजुएट युवा की, जिसने रोटी के लिए चुनी कब्र खोदने की नौकरी

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: