JamshedpurJharkhandKhas-Khabar

Alarming : जमकर ट्रैफिक सिग्नल तोड़ रहे युवा, दोपहिया वाहनों से मरनेवालों की संख्या सर्वाधिक, सड़क परिवहन मंत्रालय ने जारी की रिपोर्ट

Sanjay Prasad
Jamshedpur: सड़क परिवहन मंत्रालय की ओर से जारी रिपोर्ट में सड़क दुर्घटना में मरनेवालों की संख्या डराने वाली है. सड़क दुर्घटना में मरने वाले सर्वाधिक 18 से 45 साल के बीच के लोग हैं. गत बुधवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार 2020 में हर सौ सड़क दुर्घटना में 36 लोगों की मौत हुई, जो पिछले 20 सालों में सबसे अधिक है. सड़क पर होने वाली मौतों के आंकड़ों से पता चलता है कि इसके शिकार सबसे ज्यादा दोपहिया वाहन चालक हुए. कुल 43.5 फीसदी लोगों की मौत दोपहिया वाहन चलाने के दौरान हुई.

पुलिस के लिए चुनौती यह है कि ट्रैफिक सिग्नल तोड़ने वालों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. ट्रैफिक सिग्नल तोड़ने के क्रम में हुई मौत के आंकड़ों में 79 फीसदी की वृद्धि हुई है. इस कारण साल 2020 में सड़क हादसों में होने वाली मौतों में 20 फीसदी की वृद्धि हुई है. मार्च 2020 से कोरोना महामारी से बचने के लिए भारत में लॉकडाउन लगाए गए. सड़कें सूनी पड़ गई थीं. मगर फिर भी साल 2020 में सड़क हादसों में जान गंवाने वालों की संख्या में वृद्धि देखी गई. आंकड़े बताते हैं कि लोगों ने धड़ल्ले से यातायात नियमों को तोड़ा . रिपोर्ट में बताया गया है कि साल 2020 में दोपहिया वाहनों की दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 57,282 थी.कोविड-19 की पहली लहर के बाद जब आवाजाही पर प्रतिबंध हटा तो सड़क पर होने वाली मौतों की संख्या में नाटकीय तौर पर वृद्धि हुई.

हेलमेट नहीं पहनना भी मौत की वजह
आंकड़ों के अनुसार अप्रैल 2020 में मरने वालों की संख्या घटकर 3,172 हो गई थी, जबकि फरवरी में इसकी संख्या 13,172 थी. लेकिन मई के बाद सड़क हादसों में जान गंवाने वालों की संख्या में तेजी से वृद्धि हुई. दिसंबर 2020 में कुल 14,908 लोगों की जान सड़क हादसे में चली गई. वैसे हेलमेट नहीं पहनने के कारण मारे जाने वाले दोपहिया वाहन चालकों की संख्या में गिरवाट आई. साल 2019 में कुल 44,666 लोगों की मौत हेलमेट नहीं पहनने की वजह से हुई थी. वहीं साल 2020 में 39,589 लोगों की मौत हुई थी.
मरने वालों में युवा ज्यादा
रिपोर्ट के मुताबिक सड़क हादसे के शिकार सबसे ज्यादा युवा वर्ग होते हैं. 2020 में 18-45 आयु वर्ग के तकरीबन 77,500 लोगों की मौत सड़क दुर्घटना में हुई. यह भारत में हुई कुल सड़क हादसों में होने वाली मौतों का 69 फीसदी है.

Catalyst IAS
SIP abacus

ये भी पढ़ें: Jamshedpur : कुणाल शाहदेव हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा, गिड्डू यादव हथियार के साथ गिरफ्तार

MDLM
Sanjeevani

Related Articles

Back to top button