JharkhandLead NewsLohardagaNEWSRanchiTOP SLIDER

प्रमोटी ST IAS अधिकारी का एक महीने में हुआ तीन बार तबादला, मंत्री के पसंदीदा बने रहे कुर्सी पर

Ranchi: अधिकारियों का तबादला किसी भी राज्य में होना एक आम बात है. इसे एक रुटीन प्रोसिडिंग भी कहा जा सकता है. लेकिन एक आईएएस (IAS) रैंक के पदाधिकारी का एक ही महीने में तीन बार तबादला हो जाना निश्चित तौर पर चिंता का विषय माना जाना चाहिए. 25 फरवरी को कार्मिक विभाग की तरफ से 17 IAS अधिकारियों के तबादले का नोटिफिकेशन जारी किया गया. लेकिन उनमें से एक को कुर्सी मिली एक अप्रैल को. कुर्सी मिलने में इन्हें एक महीने से ज्यादा का समय लग गया. बात हो रही है प्रमोटी IAS अधिकारी दिलीप टोप्पो की. दिलीप टोप्पो 25 फरवरी से पहले लोहरदगा के डीसी थे. उनका तबादला खेल विभाग के निदेशक के पद पर हुआ. लेकिन पहले से ही खेल निदेशक के पद पर पदास्थापित जिशान कमर ने उनके लिए अपनी कुर्सी नहीं छोड़ी. दिलीप टोप्पो को समझाया गया कि वो चिंता ना करें, कोई अच्छी पोस्ट जल्द ही दी जाएगी. दो दिनों के बाद कार्मिक की ओर से नोटिफिकेशन जारी कर  जिशान कमर को खेल निदेशक के पद पर बने रहने को कहा गया.

इसे भी पढें: इग्नोर फील कर रहे हैं राज्य के प्रमोटी IAS, एक भी जिले में डीसी नहीं, डीडीसी की कुर्सी पर भी अतिक्रमण 

दो दिनों में दो तबादले

ram janam hospital
Catalyst IAS

कार्मिक विभाग के आदेश के बावजूद दिलीप टोप्पो वेटिंग फॉर पोस्टिंग की लिस्ट में शामिल हो गए. मार्च महीने में दोबारा नोटिफिकेशन जारी हुआ और उन्हें निदेशक जेसीआरटी (Jharkhand Council of Educational Research And Training) का पद मिला. अभी वो इसका पद भार ग्रहण ही करते कि उन्हें दूसरे दिन ही यानी एक अप्रैल को निदेशक प्राथमिक शिक्षा बना दिया गया. आखिरकार उन्होंने यहां पदभार लिया और काम शुरू किया.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

मंत्री हफिजुल अंसारी वजह तो नहीं?

तबादले के बीद भी जिशान कमर ने अपनी कुर्सी खाली नहीं की. तरह-तरह की बातें होने लगी है. चर्चाओं का बाजार गर्म है. कहा जा रहा है कि मंत्री हफिजुल अंसारी नहीं चाहते कि जिशान कमर खेल निदेशक के पद से हटें. वहीं ब्यूरोक्रेसी में चर्चा हो रही है कि आखिर जब जिशान कमर को ही खेल निदेशक बनाए रखना था, तो दिलीप टोप्पो का तबादला ही क्यों किया गया.

इसे भी पढ़ेंः तबादले के बाद भी अपनी कुर्सी पर जमे हैं खेल निदेशक जिशान कमर, दिलीप टोप्पो को नहीं दे रहे प्रभार 

किसी भी जिले के डीसी प्रमोटी आईएएस नहीं

25 फरवरी को कर्मिक विभाग की तरफ से आईएएस अधिकारियों के तबादले का नोटिफिकेशन जारी हुआ. इस नोटिफिकेशन से पहले झारखंड में तीन प्रमोटी आईएएस डीसी के पद पर थे. प्रमोटी आईएएस गढ़वा डीसी राजेश कुमार पाठक का तबादला निदेशक नगरीय प्रशासन नगर विकास विभाग कर दिया गया. लोहरदगा डीसी दिलीप कुमार टोप्पो को निदेशक खेलकूद बना दिया गया और गुमला डीसी शिशिर कुमार सिन्हा का तबादला विशेष सचिव गृह कार्य एवं आपदा प्रबंधन विभाग कर दिया गया. लिहाजा अब झारखंड में एक भी प्रमोटी आईएएस किसी भी जिले के डीसी नहीं हैं. स्टेट लेवल के सीनियर अधिकारियों का कहना है कि भारत में झारखंड ही एक ऐसा राज्य होगा जहां किसी भी जिले का डीसी कोई प्रमोटी आईएएस ना हो.

Related Articles

Back to top button