न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू: मरीजों की जान से खिलवाड़ करनेवाले निजी क्लीनिक पर दर्ज होगी एफआईआर

सिविल सर्जन कार्यालय में अस्पताल प्रबंधन समिति की बैठक

1,501

Palamu:  पलामू सिविल सर्जन के कार्यालय में शनिवार को हुई अस्पताल प्रबंधन समिति की बैठक हंगामेदार रही. इसकी अध्यक्षता जिला परिषद अध्यक्ष प्रभा देवी ने की. बैठक में जिप उपाध्यक्ष संजय कुमार सिंह द्वारा पिछली बैठक के निर्णयों का अनुपालन नहीं किये जाने पर नाराजगी व्यक्त की गई. कहा गया कि यथाशीघ्र पूर्व की बैठक के साथ-साथ आज की बैठक में लिये गए निर्णयों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाये. इसके अलावा उन्होंने सरकार द्वारा निदेशित मानकों को पूरा नहीं करने वाले निजी अस्पतालों को आयुष्मान भारत योजना के तहत सूचीबद्ध किये जाने पर गहरी आपत्ति दर्ज की गयी.

mi banner add

आय और व्यय की समीक्षा

कहा गया कि आयुष्मान भारत योजना से संबद्ध अस्पतालों की सूची सार्वजनिक करने के लिए सार्वजनिक स्थलों पर चिपकाया जाये, ताकि आम लोगों को भी पूरी जानकारी हो सके. इस दौरान आयुष्मान भारत समेत अस्पताल को विभिन्न माध्यमों से होने वाले आय और व्यय की समीक्षा गई. कैशबुक अद्यतन नहीं रहने एवं आय-व्यय का स्पष्ट प्रतिवेदन प्रस्तुत नहीं किये जाने पर संबंधित पदाधिकारी व कर्मियों को कड़ी फटकार लगाई गई. उन्हें एक सप्ताह के अंदर संपूर्ण आय-व्यय का प्रतिवेदन मदवार प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया.

वेतन निर्गत करने का आदेश दिया

बैठक में कार्य में लापरवाही के आरोप में पिछली बैठक में जिन दो कर्मियों यथा सुखराम एवं मो. साजिद का वेतन स्थगित किया गया था, उन्हें इस बैठक में कड़ी चेतावनी देते हुए उनके वेतन पर लगाये गए रोक को निरस्त करते हुए वेतन निर्गत करने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया गया. इस दौरान यक्षमा विभाग में स्थापित एक्स-रे मशीन को एचएमएस में विलोपित करते हुए संपूर्ण आय-व्यय का ब्योरा एचएमएस से निर्गत कराने का निर्देश दिया गया.

निःशुल्क होगी ऑस्ट्रेलिया एंटीजेन की जांच

पैथोलॉजी जांच के लिए ऑस्ट्रेलिया एंटीजेन की जांच सदर अस्पताल में निःशुल्क होगी. डायग्नोस्टिक सेंटर में इसकी जांच शुरू करने का निर्णय लिया गया. इससे सदर अस्पताल में आने वाले मरीजों को राहत मिलेगी. मरीज 40 रूपये का सीधा बचत कर पाएंगे. बता दें कि पलामू के सदर अस्पताल में पलामू जिला के अलावा बिहार, उत्तरप्रदेश राज्य के जिलों से मरीज यहां जांच के लिए पहुंचते हैं.

अस्पताल परिसर में वाहन पार्क करने पर लगेगा शुल्क 

हॉस्पिटल परिसर में वाहन पार्क करने पर प्रति घंटा के हिसाब से शुल्क अदा करना होगा. अस्पताल प्रबंधन समिति की बैठक में निर्णय लिया गया कि दो पहिया वाहन के लिए 5 रूपये और अन्य वाहनों के लिए 20 रूपये प्रति घंटा के हिसाब से पार्किंग शुल्क देना होगा. जानकारी हो कि अस्पताल परिसर में कोई भी व्यक्ति अपनी वाहन पार्क कर दूसरे जगहोंपर चला जाता था, इससे वहां पहुंचने वाले मरीजों को कठिनाई होती थी. इसे ध्यान में रखकर उक्त निर्णय लिया गया है.

‘हैपी क्लीनिक’ संचालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का निर्णय 

बैठक में जिप उपाध्यक्ष ने चैनपुर में आयुष्मान भारत योजना से संबद्ध ‘हैपी क्लीनिक’ से जुड़ा गंभीर मामला उठाते हुए कहा गया कि डॉक्टर की अनुपस्थिति में फर्जी लोगों द्वारा ऑपरेशन किया जा रहा है. उन्होंने क्लीनिक की जांच यथाशीघ्र कराते हुए अन्य निजी क्लीनिकों की जांच कराकर मरीजों की जान से खिलवाड़ करने वाले लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का निर्देश दिया. बैठक के अंत में आउट सोर्सिंग के स्वास्थ्यकर्मियों के लंबे समय से बकाया वेतन का भुगतान यथाशीघ्र कराने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया. बैठक में सीएस डॉ जान एफ कैनेडी,  डॉ एसएस होरो,  डॉ अनिल श्रीवास्तव, डीपीएम प्रवीण सिंह एवं अस्पताल प्रबंधक आदि उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ेंः ममता बनर्जी का डॉक्टरों से आग्रह, काम पर लौट जायें, कहा- डॉक्टरों को सदबुद्धि मिले, आपकी सारी मांगें मान ली हैं

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: