Crime NewsHazaribaghJharkhandJharkhand StoryKhas-KhabarLead NewsNEWSRanchiTop Story

15 लाख इनामी हार्डकोर नक्सली कारू यादव की गिरफ्तारी का हजारीबाग पुलिस ने किया एलान

Hazaribagh: पुलिस अधीक्षक मनोज रतन चौथे ने शुक्रवार को प्रेसवार्ता कर औपचारिक रूप से 15 लाख रुपए का इनामी हार्डकोर उग्रवादी कारू हुलास यादव की गिरफ्तारी की बात कही. एसपी ने बताया कि कारू को महाराष्ट्र एटीएस ने गिरफ्तार किया था जिसे आज हजारीबाग लाया गया. आपको बता दें कि यह हार्डकोर उग्रवादी पहले कभी जेल नहीं गया था पहली बार इसकी गिरफ्तारी हुई है. मिली जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि एटीएस को यह मालूम ही नहीं था कि पालघर जिले के नालासोपारा से जिस व्यक्ति को पकड़ा गया है वह 15 लाख का इनमी झारखंड का हार्डकोर नक्सली कारू यादव उर्फ हुलास यादव है. एसपी ने बताया कि नक्सली कारू यादव का दस्ता चतरा और हजारीबाग के सीमांत इलाके में का दस्ता सक्रिय था . सीमांत इलाके में दुर्दांत माओवादियों के मारे जाने और पकड़े जाने के बाद एकलौता हार्डकोर उग्रवादी रह गया था . जो लेवी वसूलने के साथ-साथ पोस्टर चिपका कर लोगों के बीच दहशत फैला रहा था. संगठन को भी मजबूत करने की कोशिश कर रहा था. कारू यादव के ऊपर 56 मामले थाने में लंबित है. झारखंड पुलिस ने उसे मोस्ट वांटेड घोषित करते हुए कहा था कि यह एक खतरनाक नक्सली है, जो हिंसा के कई मामलों में सरकार द्वारा वांछित था.

इसे भी पढ़ें: हाईकोर्ट ने परिवहन सचिव के के सोन का वेतन रोका,आदेश पालन का दिया निर्देश

हजारीबाग का रहने वाला है कारू यादव

 

कारू यादव उर्फ हुलास यादव भाकपा माओवादी संगठन का रीजनल कमिटी का सदस्य है जो हजारीबाग जिले के कटकमसांडी प्रखंड का रहने वाला है. कारू हुलास यादव मूल रूप से हजारीबाग जिले के कटकमसांडी थाना क्षेत्र का रहने वाला है. वह महाराष्ट्र के पालघर जिले में इलाज करवाने के लिए गया था. इसी दौरान इसकी सूचना पुलिस को मिली थी. जिसके बाद यह कार्रवाई की गई थी.

Sanjeevani

Related Articles

Back to top button