Corona_UpdatesKhas-KhabarMain SliderNationalNEWSTEENAGERS

स्कूल खोलने की पहल करे सरकार, एम्स निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया ने कहा- बच्चों की इम्युनिटी है मजबूत

NEW DELHI:  कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच बच्चों पर इसका खतरा सबसे ज्यादा बताया जा रहा है और यही वजह से कि अनलॉक की प्रक्रिया के बाद भी स्कूलों को अभी तक नहीं खोला गया है. हालांकि एम्स के डायरेक्टर डॉक्टर रणदीप गुलेरिया  ने तीसरी लहर की आशंका के बीच भी स्कूल खोलने की वकालत की है और इसके लिए खास रणनीति बनाने का सुझाव दिया है.

सरकार करे सकारात्मक पहल

डॉ गुलेरिया ने कहा कि तमाम राज्य सरकारों को खास रणनीति पर काम करते हुए स्कूल फिर से खोलने पर विचार करना चाहिए. देश के ज्यादातर राज्यों में बीते साल मार्च में पहला लॉकडाउन लगने के बाद से ही स्कूल बंद हैं और अब इन्हें फिर से चालू करने पर काम करने की जरूरत है.

संक्रमण की दर पांच फीसदी से कम

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक डॉ गुलेरिया ने कहा कि मैं स्कूलों को फिर से खोले जाने का समर्थन करता हूं लेकिन यह काम उन जिलों में शुरू किया जाए जहां कोरोना के केस काफी कम हैं. ऐसे जिले जिनमें संक्रमण की दर पांच फीसदी से भी नीचे है, वहां स्कूलों को फिर से खोला जा सकता है.

स्कूलों को फिर से खोला जाना चाहिए

एम्स डायरेक्टर ने बच्चों में संक्रमण दर को लेकर जानकारी देते हुए कहा कि देश में ऐसे बच्चों की तादाद काफी कम हैं जो वायरस की चपेट में आए हैं और ज्यादातर बच्चों की इम्युनिटी काफी मजबूत है. उन्होंने कहा कि कई बच्चों में तो वायरस से लड़ने के लिए नेचुरल इम्युनिटी भी तैयार हो चुकी है. ऐसे में जो बच्चे ऑनलाइन क्लास लेने में सक्षम नहीं हैं, उनके लिए स्कूलों को फिर से खोला जाना चाहिए.

advt

तत्काल स्कूल बंद किये जा सकते हैं

डॉ गुलेरिया ने कहा कि अगर संक्रमण फिर से दिखे तो स्कूल तुरंत बंद किये जा सकते हैं, लेकिन अब स्कूल खोले जा सकते हैं. उन्होंने कहा कि बच्चों को अल्टरनेट डे पर बुलाया जा सकता है या कुछ और व्यवस्था की जा सकती है.

भारतीय बच्चों की इम्युनिटी स्ट्रांग

डॉ गुलेरिया ने कहा कि बच्चों के अंदर इम्युनिटी बहुत अच्छी है. सीरो सर्वे में इस बात का खुलासा हुआ है कि बच्चों के पास एंटीबाडीज वयस्क लोगों की अपेक्षा ज्यादा बेहतर है, इसलिए खोले जाने चाहिए. इंटरनेट के जरिये पढ़ाई उतनी सार्थक नहीं है जितनी की स्कूलों में होती है.

 

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: