DumkaJharkhand

दुमका : वज्रपात का कहर, घर के मलबे में दबकर तीन की मौत, दो गंभीर

Dumka : शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के पिनरगड़िया गांव में सतगुरू क्रशर कार्यालय पर देर रात वज्रपात होने से मलबे में दबकर मरनेवालों मजदूर की संख्या बढ़कर तीन हो गई. बीती देर रात वज्रपात होने से घर के मलबे में दबकर दो मजदूरों की मौके पर मौत हो गयी थी जबकि तीन घायल हो गए थे.

Jharkhand Rai

घायलों को इलाज के लिए रामपुरहाट अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां आज सुबह एक मजदूर की मौत हो गई. मरनेवाले मजदूर छत्तीसगढ़ और उतराखंड के रहनेवाले बताये जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें- झारखंड में लक्ष्य से पीछे चल रहा प्रधानमंत्री आवास योजना, 2018-19 में बने सबसे कम आवास

छत का मलबा गिरने के हुई मजदूरों की मौत

शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के पिनरगड़िया गांव में सतगुरू क्रशर कार्यालय पर देर रात वज्रपात होने से छत का मलबा नीचे सो रहे मजदूरों पर गिर गया. जिससे की दो मजदूरों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया वहीं आज सुबह इलाज के दौरान अस्पताल में एक की मौत हो गयी. वहीं दो अन्य घायलों की स्थिति भी गंभीर बतायी जा रही है.

Samford

इसे भी पढ़ें- झारखंड का एक ऐसा गांव जहां पानी के अभाव में नहीं बजती है शहनाई, बूंद-बूंद पानी को तरस रहे लोग (देखें…

पूरे राज्य में वज्रपात से सात लोगों की हुई मौत

शुक्रवार को हुई बारिश के दौरान वज्रपात से राज्य में सात लोगों की मौत गई और पांच झुलसे गए. दुमका में तीन लोगों की मौत हो गई. वहीं बोकारो के गोमिया प्रखंड की कर्री पंचायत के सागर कुमार, गिरिडीह के केंदुआडीह गांव के 43 वर्षीय शिवनाथ किस्कू, देवघर के जसीडीह थाना क्षेत्र के सुजानी गांव में शिबू रवानी और गुमला के पंडरिया गांव में एक छात्रा की वज्रपात से मौत हो गई. वहीं वज्रपात में पांच लोग झुलस गए.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: