न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

राजनीतिक दलों को मिले चंदे का 89 % बीजेपी को, कांग्रेस से मिले 12 गुना ज्यादा 437 करोड़ रुपए 

1,905

New Delhi: कॉरपोरेट जगत से राजनीतिक दलों को 20 हजार से ज्यादा मिलने वाले चंदे में बीजेपी सबसे आगे है. कॉरपोरेट चंदा का 89 फीसदी 437 करोड़ रुपए बीजेपी के खाते में गया है. एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (ADR) ने राजनीतिक दलों द्वारा चुनाव आयोग को सौंपे हलफनामों के आधार पर एक रिपोर्ट तैयार की.

जिसमें बीजेपी इस रेस में काफी आगे है. वित्त वर्ष 2017-18 में सत्तारुढ़ भाजपा को 437 करोड़ रुपयेस का चंदा मिला, जो कांग्रेस, एनसीपी, सीपीआई, सीपीएम और टीएमसी को मिलाकर जितना चंदा मिला, उससे करीब 12 गुना ज्यादा है.

बीजेपी को सबसे ज्यादा चंदा

hosp3

रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त वर्ष 2017-18 के लिए राष्ट्रीय पार्टियों को 20,000 रुपये से ज्यादा के चंदों के तौर पर कुल 469.89 करोड़ रुपये मिले. चंदा देनेवालों की संख्या 4,201 हैं. कुल राशि में से बीजेपी को 437.04 करोड़ रुपए चंदे में मिले और देनेवालों की संख्या 2,977 थी. वहीं कांग्रेस को 777 चंदों के जरिए 26.65 करोड़ रुपये हासिल हुए.

राष्ट्रीय पार्टियों को दिए गए डोनेशन का 90 फीसदी हिस्सा कॉरपोरेट घरानों से आया है. जबकि 10 फीसदी ही व्यक्तिगत रुप से दिए गए. बीजेपी को चंदे में मिली राशि का बड़ा हिस्सा कॉरपोरेट सेक्टर से आया है, जिसमें सबसे ज्यादा 1,207 चंदों के तौर 400.23 करोड़ रुपये हासिल हुए. वहीं व्यक्तिगत चंदों के तौर पर भारतीय जनता पार्टी को 1,759 चंदों से 36.71 करोड़ रुपये मिले. बात कांग्रेस की करें तो कॉरपोरेट सेक्टर की तरफ से 53 चंदों के रूप में 19.29 करोड़ रुपये मिले. वहीं 2 724 व्यक्तिगत चंदों के तौर पर 7.36 करोड़ रुपये मिले.

वहीं बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने चुनाव आयोग को लिखित में दिया है कि उसे 20,000 रुपये से ज्यादा का कोई चंदा नहीं मिला. हालांकि, बीएसपी पिछले 12 वर्षों से ऐसी ही जानकारी चुनाव आयोग को दे रही है. ज्ञात हो कि 20 हजार से अधिक कॉरपोरेट चंदा मिलने पर राजनीतिक दल को चुनाव आयोग को हिसाब देना होता है.

प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट टॉप डोनर

रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा और कांग्रेस को सबसे ज्यादा चंदा ‘‘प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट’’ की ओर से मिला. ये बड़े कॉरपोरेट घरानों द्वारा समर्थित कंपनी है जिसमें परिसंपत्ति और टेलीकॉम सेक्टर से जुड़ी बड़ी कंपनियां शामिल हैं. बीजेपी और कांग्रेस के टॉप दो डोनर्स में इस ट्रस्ट का नाम शामिल है.

‘प्रूडेंट इलेक्टोरल ट्रस्ट’ ने भाजपा और कांग्रेस को मिलाकर कुल 164.30 करोड़ रूपये का चंदा दिया. जिसमें भाजपा को 154.30 करोड़ रुपए मिले जो पार्टी को मिले कुल चंदे का 35 फीसदी है. वहीं कांग्रेस को 10 करोड़ मिले, जो कांग्रेस को मिले कुल चंदे का 38 प्रतिशत है.

इसे भी पढ़ेंः वन पट्टा बांटने के मामले में झारखंड पीछेः छत्तीसगढ़ ने बांटे 07 लाख पट्टे, झारखंड ने बांटे सिर्फ 25 हजार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: