JharkhandLead NewsRanchi

हो जायें एलर्टः रांची में कोरोना के 103 सक्रिय केस, इनमें एक रिम्स का मेडिकल स्टूडेंट भी

बुधवार को राज्य के एकमात्र जिला रांची से मिले हैं 15 नये संक्रमित

Ranchi: रिम्स में कोरोना मरीजों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है. दो कोरोना पॉजिटिव मरीजों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. दोनों का इलाज रिम्स के न्यू ट्रॉमा सेंटर में चल रहा है. इनमें से एक मरीज रिम्स का ही मेडिकल स्टूडेंट है. हॉस्टल नंबर 2 में रहने वाले स्टूडेंट की ट्रूनेट में रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इसके बाद तत्काल उसे न्यू ट्रामा सेंटर में शिफ्ट कर दिया गया है. हॉस्टल में केस मिलने के बाद रिम्स प्रबंधन की नींद उड़ गई है. वहीं जल्द ही उसके संपर्क में आने वाले की कांटेक्ट ट्रेसिंग कर जांच कराई जाएगी. यह भी उल्लेखनीय है कि बुधवार को 24 घंटे में झारखंड में 15 संक्रमित मिले हैं. सभी रांची से मिले हैं.

इसे भी पढ़ें :  कलमबंद आंदोलन के बाद हड़ताल में जाने की तैयारी में एसबीएम कर्मी, प्रभावित होगा स्वच्छ भारत मिशन

रिम्स में लागू हुआ नो मास्क नो एंट्री

Catalyst IAS
ram janam hospital

रांची में लगातार मिल रहे कोरोना संक्रमितों ने सेहत विभाग को परेशानी में डाल दिया है. रांची में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़कर सौ को पार कर गई है.ऐसे में लोगों को पहले से ज्यादा अलर्ट रहने की हिदायत दी गई है. वहीं राज्य के सबसे बड़े हॉस्पिटल रिम्स में भी सख्ती शुरू कर दी गई है. जिसके तहत नो मास्क नो एंट्री लागू कर दिया गया है. वहीं हर जगह डिस्प्ले लगाया गया है की बिना मास्क के किसी को भी हॉस्पिटल कैंपस में एंट्री नहीं दी जाएगी. बताते चलें कि केवल रांची में 103 एक्टिव केस हैं.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

पोस्ट कोविड के 30 और ब्लैक फंगस का 1 मरीज

रिम्स में पोस्ट कोविड के 30 मरीजों का इलाज चल रहा है. सभी मरीज न्यू ट्रामा सेंटर के सेकेंड और थर्ड फ्लोर पर एडमिट हैं. जिससे साफ है कि लोगों ने भले ही कोरोना से जंग जीत ली हों, लेकिन उसके बाद की परेशानियां उनका पीछा नहीं छोड़ रही है. वहीं ब्लैक फंगस कभी एक मरीज डेंगू वार्ड में इलाजरत है.

इसे भी पढ़ें : पूर्व मंत्री सलमान खुर्शीद की किताब पर बवाल, हिन्दुत्व को बताया ISIS और बोकोहराम जैसा संगठन, शिकायत दर्ज

Related Articles

Back to top button