न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

बंधु को मिली बेल, वकील ने कहा- कोर्ट ने बंधु को बताया ईमानदार नेता

1,923

Ranchi: पूर्व मंत्री बंधु तिर्की को आय से अधिक संपत्ति मामले में हाईकोर्ट से बेल मिल गयी है. न्यायाधीश एबी सिंह की अदालत ने बंधु तिर्की को जमानत दी. ज्ञात हो कि जेवीएम के केंद्रीय महासचिव बंधु तिर्की को 12 दिसंबर को उनके बनहोरा स्थित आवास से सुबह छह बजे गिरफ्तार किया गया थे. बंधु के वकील ए कश्यप ने बताया कि बंधु तिर्की पर आय से अधिक संपत्ति का आरोप था. जिसपर सीबीआई ने कोई भी चार्जशीट नहीं दायर की. पूर्व मंत्री के वकील ने बताया कि सुनवाई के दौरान सीबीआई ने बेल का विरोध नहीं किया. वहीं कोर्ट ने सीबीआई को फटकारते हुए कहा कि बंधु तिर्की राज्य के एक ईमानदार नेता हैं. साथ ही कहा कि आज रिलीज ऑडर जारी होते ही वो जेल से रिहा हो जाएंगे.

क्या हुआ सुनवाई के दौरान

सीबीआई ने जांच के बाद ट्रायल के लिए सेंट अप नहीं किया था. चुंकि उनके खिलाफ पुख्ता प्रमाण नहीं था. फाइनल रिपोर्ट समिट होने के बाद ट्रायल कोर्ट ने उसपर संज्ञान ले लिया था, उसके आधार पर उनको समन किया गया था. जिसे बंधु के वकील ने चैलेंज किया था.

इस मामले में भी स्टे ग्रांट किया गया था. जबकि सुप्रीम कोर्ट के एक जजमेंट के आधार पर छः महीने से अधिक स्टे नहीं रहता है. इसी आधार पर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था. गुरुवार को सुनवाई के बाद उन्हें जमानत दे दी गई.

किस आधार पर मिली बेल

जो आय से अधिक संपत्ति का मामला था, वो बहुत ही कम अमाउंट का था. सीबीआई के अनुसंधान में पाया गया कि जितना आय से अधिक मामले पर होता है उतनी संपत्ति नहीं थी. इसलिए सीबीआई ने उन्हें चार्जशीट नहीं किया था. लेकिन लोअर कोर्ट ने इस फाइनल रिपोर्ट को नहीं माना और संज्ञान ले लिया था. सीबीआई ने सुनवाई के दौरान बंधु की बेल के विरोध में कोई पक्ष नहीं रखा. पूर्व में सीबीआई के द्वारा क्लोजर रिपोर्ट समिट किया जा चुका है.

बंधु पर चल रहे मामले

बंधु तिर्की को दो अन्य मामलों में भी बेल मिली है. जिसमें जीआर/ 2965/18 के तहत सीएम पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने का आरोप था. यह मामला अनगढ़ा थाना में दर्ज था. इसके अलावा जीआर/6657/16 सीएनटी-एसपीटी संशोधन के खिलाफ विधानसभा के पास धरना-प्रदर्शन के मामले में केस दर्ज था. जिसपर हिरासत के दौरान बेल मिल गयी है.

कब हुई थी गिरफ्तारी

पूर्व शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की को 11 दिसंबर की सुबह कोलेबिरा विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने गए थे. जिसके बाद वह रात के करीब 2 बजे रांची लौटे थे. 12 दिसंबर की सुबह 6 बजे सीबीआई की टीम ने बनहोरा स्थित आवास से उन्हें गिरफ्तार कर लिया. तब से लेकर अब तक जेल में हैं.

इसे भी पढ़ेंः जेपीएससी मुख्य परीक्षा टलने के आसार कम, स्थगित कराने को लेकर प्रयासरत परीक्षार्थी

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: