न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

क्रिश्चियन मिशेल के वकील जोसेफ को यूथ कांग्रेस ने निकाला, कांग्रेस-भाजपा में घमासान

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाले क्रिश्चियन मिशेल के वकील अल्जो के जोसेफ को लेकर राजनीतिक भूचाल आ गया है. मिशेल के भारत लाये जाने के बाद कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं.

10

NewDelhi : अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिए की भूमिका निभाने वाले क्रिश्चियन मिशेल के वकील अल्जो के जोसेफ को लेकर राजनीतिक भूचाल आ गया है. मिशेल के भारत लाये जाने के बाद कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं. इससे पूर्व विपक्ष राफेल सौदे को लेकर सरकार पर हमलावर था लेकिन अब भाजपा  कांग्रेस को निशाने पर ले रही है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मिशेल के बहाने कांग्रेस पर हमला बोला. शाह ने कहा कि विपक्ष के पास कोई और मुद्दा नहीं है. साथ ही उन्होंने सवालिया लहजे में पूछा, अगर हमने बिचौलिए को पकड़ा है तो क्या गलत किया? क्या विपक्ष उसे बचाना चाहता है?’ बता दें कि जोसेफ यूथ कांग्रेस लीगल डिपार्टमेंट के नेशनल इंचार्ज हैं. हालांकि किरकिरी से बचने के लिए यूथ कांग्रेस ने अल्जो के जोसेफ को निकाल दिया है. इससे पूर्व आजतक चैनल से बातचीत के क्रम में अल्जो जोसेफ ने सफाई पेश करते हुए कहा कि मैं सुप्रीम कोर्ट में वकील हूं. यह मेरा प्रोफेशन है, मैं अपना काम कर रहा हूं. जेटली साहब का उदाहरण देते हुए कहा कि वे भी तो तरह-तरह के लोगों के केस लड़ते हैं. कहा कि दुबई और इटली से मिशेल के वकीलों ने मुझसे संपर्क किया तब मैंने केस लड़ने के लिए रजामंदी दी.

अल्जो जोसेफ ने कहा, यह मेरी रोजी रोटी है. मेरे पास कोई बिजनेस नहीं है

मैं यूथ कांग्रेस के लीगल डिपार्टमेंट का कोऑर्डिनेटर हूं, लेकिन यह मेरा प्रोफेशन है. इसमें कांग्रेस का कोई लेना देना नहीं है. मैं अपनी नौकरी कर रहा हूं.  भाजपा पर आरेाप लगाया कि प्रोफेशनल काम करने के लिए  वह इतना  हल्ला क्यों कर रही हैं? इस क्रम में अल्जो जोसेफ ने कहा कि यह मेरी रेाजी रोटी है. मेरे पास कोई बिजनेस नहीं है. मैं दिल्ली में केरल से आया हूं. यहां पर प्रैक्टिस कर रहा हूं. मिशल के प्रत्यर्पण पर उन्होंने कहा कि अभी तक मुझे पेपर नहीं मिला है इसलिए मैं इस पर कमेंट नहीं कर सकता. मैंने कागजों की मांग की है.  कल सुबह पेपर मिलेगा, उसके बाद ही केस को देख कर मैं कमेंट कर सकता हूं. बता दें कि वीवीआईपी चॉपर डील में हुए कथित घोटाले के मामले में बिचौलिए क्रिश्चन मिशेल को बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया. यह मामला राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा रहा है.  दुबई से मिशेल को भारत लाये जाने के बाद पीएम मोदी ने कांग्रेस पर हमलावर हेाते हुए कहा था कि अब मिशेल राज खोलेगा. स्पेशल कोर्ट में पेशी के बाद मिशेल के वकील अल्जो के जोसेफ कांग्रेस मुख्यालय में नजर आये.

हैदराबाद में रैली के दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से जब इस मामले में प्रतिक्रिया मांगी गयी तो उन्होंने कहा कि इस मामले में पार्टी ने पहले ही अपना स्टैंड क्लियर कर दिया है.  पलटवार करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को बताना चाहिए कि राफेल के लिए 30,000 करोड़ रुपये अंबानी की जेब में क्यों डाले गये. आरोप है कि मिशेल ने डील फाइनल करवाने के लिए अगुस्टा वेसटलैंड से 255 करोड़ रुपये की रिश्वत ली थी. इस मामले में मिशेल कुछ बड़े नौकरशाहों का नाम भी ले सकता है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: