JharkhandLead NewsRanchi

टो-अवे जोन से गाड़ियां तो उठा रहे हैं आप, पर पार्किंग कहां है यह तो बताइए जनाब!

लोग पूछ रहे हैं सवाल, पार्किंग बनाया ही नहीं तो गाड़ियों को क्या सर पर उठा कर रखें?

Ranchi : शहर को जमा मुक्त करने के लिए रांची नगर निगम ने एक विशेष अभियान चला रखा है. अभियान के तहत शहर के नो पार्किंग जोन में खड़े वाहनों को जब्त किया जा रहा है.

इसी कड़ी में बुधवार को निगम ने कचहरी चौक से लेकर अलबर्ट एक्का चौक तक वाहन जब्ती अभियान चलाया. अभियान में अवैध पार्किंग किये 15 दोपहिया वाहनों व एक चार पहिया वाहनों को जब्त किया गया.

आरएमसी का दावा है कि शहर को जाम मुक्त करने के लिए यह आवश्यक है. लेकिन लोग इस अभियान पर सवाल उठा रहे हैं. लोगों का कहना है कि अभियान चलाने से पहले निगम प्रशासन को यह भी जरूर बताना चाहिए कि शहर में गाड़ियों को कहां पार्क करें.

Catalyst IAS
ram janam hospital

शहर के प्रमुख मार्गों पर जो पार्किंग स्थल चिन्हित किये गये हैं वे नाकाफी हैं. नतीजतन लोगों को नो पार्किंग जोन में गाड़ियां खड़ी करनी पड़ती हैं. अब लोग पूछ रहे हैं कि क्या वे अपने सर पर वाहनों को पार्क करें.

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

इसे भी पढ़ें : सरकार और ग्रामीण विकास कार्यों से जुड़े संविदा कर्मियों के हठ के बीच पीस रही है जनता

लालपुर से कचहरी चौक तक मात्र एक पार्किंग स्थल

राजधानी के कई इलाकों में निगम ने पार्किंग स्थल तो बनाया है. लेकिन कई व्यस्तम इलाके में यह नहीं है. इसमें कचहरी चौक से लेकर लालपुर चौक तक इलाका सबसे प्रमुखता से शामिल है.

करीब 1.5 किमी की इस दूरी वाले मार्ग में केवल हरिओम टावर के पास ही एक पार्किंग स्थल निगम द्वारा बनाया गया है. अब अगर किसी व्यक्ति को लालपुर चौक के पास काम हो तो वह अपने वाहनों को कहां पार्क करेगा इसका जवाब निगम के पास नहीं है. पार्किंग स्पॉट नहीं होने से लोगों को काफी परेशानी झेलनी पड़ती है.

राजधानी में निगम ने अभी बनाया हुआ है केवल 24 पार्किंग स्थल

बता दें कि निगम द्वारा अभी राजधानी के कुल 24 जगहों में पार्किंग स्थल बनाया गया है. इसमें सेवा सदन, सिद्धू कान्हु पार्क, हरिओम टावर, रंगरेज गली, पहाड़ी मंदिर, पैंटालून मॉल (एचबी रोड डंगराटोली), कांके रोड में बिग बाजार, प्रेमसंस मोटर व रिलायंस मार्ट, कचहरी चौक, शारदा बाबू लेन, अल्बर्ट एक्का चौक से सर्जना चौक तक, रांची क्लब कंप्लेक्स, सैनको के बगल से एसी मार्केट, हनुमान मंदिर (मेन रोड), बिग बाजार, वेद टैक्सटाइल से निशान ऑटोमोबाइल, विशाल मेगा मार्ट से हनुमान मंदिर, अमेठी यूनिवर्सिटी से मान्यवर शोरूम, गुप्ता भंडार से लेदर वर्ल्ड, सिटाडेली (ब्लैकबेरी) बिल्डिंग से होराइजन होंडा, नाइस फर्नीचर से लेकर वी-मार्ट, चर्च कॉम्पलेक्स के सामने से लेकर नाइस फर्निचर तक का इलाका शामिल हैं.

इसे भी पढ़ें : झारखंड की 7 बच्चियों को बाहर ले जा रहे थे ट्रैफिकर, पुलिस ने छुड़ाया

पार्किंग स्थल बनाने के लिए कई स्थलों का निगम ने कराया हैं सर्वे : उपनगर आयुक्त

पार्किंग स्थल की कम संख्या होने से पब्लिक को होने वाली परेशानी से उप नगर आयुक्त कुवंर सिंह पाहन भी सहमत दिखे.

उन्होंने न्यूज विंग को बताया कि निगम कई स्थानों को पार्किंग स्थल बनाने के लिए सर्वे कर रहा है. भविष्य में राजधानीवासियों को अपने वाहनों के पार्किंग के लिए ज्यादा जगह मिले, इसके लिए निगम गंभीर है.

इसे भी पढ़ें : चान्हो डबल मर्डर केस: प्रेम-प्रसंग या जमीन विवाद हो सकती है वारदात की वजह

Related Articles

Back to top button